Sun. Oct 17th, 2021

आईटीबीपी के दो पर्वतारोहियों ने माउंट मानसलू की सफलतापूर्वक चढ़ाई पूरी की


नई दिल्ली, 25 सितंबर (हि.स)। भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के दो शीर्ष पर्वतारोहियों रतन सिंह सोनल, कमांडेंट और अनूप कुमार उप कमांडेंट ने शनिवार को नेपाल में समुद्र तल से 8,163 मीटर (26,781 फीट) की ऊंचाई पर दुनिया के 8वें सबसे ऊंचे पर्वत माउंट मानसलू की सफलतापूर्वक चढ़ाई पूरी की। यह अभियान सात सितम्बर से पांच अक्टूबर, 2021 तक आयोजित किया जा रहा है, जो आज सफलतापूर्वक शिखर पर पहुंचने में सफल रहा है।

आईटीबीपी के प्रवक्ता विवेक पांडेय ने ‘हिन्दुस्थान समाचार’ को बताया कि दोनों पर्वतारोहियों ने इससे पहले हिमालय की कई चोटियों पर आरोहण करके आईटीबीपी का नाम रोशन किया है। रतन सिंह सोनाल ने इसी साल में माउंट ल्होत्से (8516 मीटर) दुनिया की चौथी सबसे ऊंची चोटी पर भी आरोहण किया था। इन आईटीबीपी अधिकारियों ने आईटीबीपी के कठिन नंदा देवी खोज और बचाव अभियान ‘डेयरडेविल्स’ का भी नेतृत्व किया था, जिसने जून-जुलाई, 2019 में चार विदेशी नागरिकों को रेस्क्यू किया था और 20,000 फीट से अधिक ऊंचाई से सात शवों को निकालकर लाये थे।

आईटीबीपी पर्वतारोहण के क्षेत्र में एक विशिष्ट रिकॉर्ड धारण करती है और बल के पर्वतारोहियों ने पिछले वर्षों में माउंट एवरेस्ट अभियान सहित 220 से अधिक पर्वतारोहण अभियान पूरे किए हैं जो एक बड़ा रिकॉर्ड है।

पर्वतारोहण के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए बल को सात पद्मश्री और 14 तेनजिंग नोर्गे एडवेंचर अवार्ड से सम्मानित किया गया है। अभी हाल ही में, आईटीबीपी ने लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में 2020 और 2021 में 6,000 मीटर से अधिक ऊंचाई की चार चोटियों पर चढ़ाई की है।