Sun. Dec 5th, 2021

विवेक सागर ने जताई उम्मीद, जूनियर हॉकी विश्व कप में अच्छा प्रदर्शन करेगी भारतीय टीम


भुवनेश्वर, 20 नवंबर (हि.स.)। भारतीय जूनियर हॉकी टीम के कप्तान विवेक सागर प्रसाद का कहना है कि उनकी टीम 24 नवंबर से यहां शुरू हो रहे एफआईएच जूनियर विश्व कप में अच्छा प्रदर्शन करेगी।

2017 में पहली बार इसके लिए खेलने के बाद से जूनियर टीम के सुधार पर प्रकाश डालते हुए विवेक सागर ने कहा, ”टीम ने 2018 और 2019 में बेहतर प्रदर्शन किया। 2020 में, कोविड की अवधि सभी के लिए संघर्ष की अवधि थी, लेकिन खिलाड़ी (भुवनेश्वर में) खिताब जीतने के उद्देश्य से एक साथ बने रहे और प्रशिक्षित हुए, इसलिए उनके बीच एकता और बंधन में बहुत सुधार हुआ है। टीम की संरचना में भी सुधार हुआ है।”

भारत विश्वकप के पहले दिन फ्रांस के खिलाफ अपने अभियान की शुरुआत करेगा।

वर्ष 2017 में, विवेक ने मलेशिया में सुल्तान ऑफ जोहोर कप में पहली बार भारत की पुरुष जूनियर टीम का नेतृत्व किया, जहां टीम तीसरे स्थान पर रही। उनके लगातार बेहतरीन प्रदर्शन के लिए उन्हें ”यंग प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट” नामित किया गया था। वर्ष 2018 में विवेक भारतीय वरिष्ठ टीम में शामिल हुए।

विवेक ने कहा, ”2013 में मध्य प्रदेश के इटारसी जिले के मेरे गांव में एक छोटे से टूर्नामेंट में, अशोक ध्यानचंद मुख्य अतिथि के रूप में आए थे। उन्होंने मुझे वहां से चुना और अकादमी में आने का मौका दिया। मैं हैरान था कि इतना बड़ा खिलाड़ी मुझे अपनी अकादमी में बुला रहा है। मुझे विश्वास नहीं हो रहा था।”

उन्होंने अपने जीवन के कठिन दौर में अपने संघर्षों को साझा करते हुए कहा, ”दो साल बाद, मैं भारत जूनियर नेशनल कैंप आया, लेकिन दुर्भाग्य से मुझे 33 सदस्यीय कोर ग्रुप में नहीं चुना गया। एक हफ्ते बाद जब मैं अकादमी वापस गया, तो मुझे एक बड़ी चोट लग गई क्योंकि मेरी कॉलर बोन टूट गई थी। ऑपरेशन के बाद मुझे ठीक होने में लगभग पांच महीने लगे। मेरे लौटने के बाद मुझे एक और चोट लगी और यह गंभीर थी। डॉक्टर ने मेरे माता-पिता से कहा कि मेरे ठीक होने की बहुत कम संभावना है, लेकिन मैंने अपना ध्यान अपने ठीक होने पर रखा और उस समय मेरे परिवार और दोस्तों ने मेरी मदद की।”

टोक्यो में भारत की ऐतिहासिक ओलंपिक कांस्य पदक विजेता टीम का हिस्सा रहे विवेक ने मनिंदर सिंह, राहुल राजभर और संजय को टीम के प्रमुख खिलाड़ियों के रूप में नामित किया। उन्होंने कहा, ”मुझे उम्मीद और विश्वास है कि हम इस टूर्नामेंट में भी अच्छा प्रदर्शन करेंगे।”