Sat. Jul 31st, 2021

उप्र में ब्लॉक प्रमुख नामांकन के दौरान कई जिलों में चलीं गोलियां, उम्मीदवारों के काफिले पर पथराव


 पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर हमलावारों की तलाश शुरू की



लखनऊ, 08 जुलाई (हि.स.)। उत्तर प्रदेश में गुरुवार को 75 जिलों में ब्लॉक प्रमुक चुनाव के नामांकन प्रक्रिया शुरू हो गयी है। पुलिस ने नामांकन प्रक्रिया शांतिपूर्वक कराने का दावा किया था लेकिन अभी तक 20 से अधिक जनपदों में नामांकन के दौरान मारपीट, पथराव, उम्मीदवारों पर जानलेवा हमले की वारदातें सामने आयी हैं। कई जिलों में फायरिंग भी हुई है। पुलिस अब सीसीटीवी कैमरे व वीडियोग्राफी के आधार पर हमलावारों की तलाश कर रही है।

कन्नौज में नामांकन के दौरान चले ईंट-पत्थर

इत्र की नगरी कन्नौज में ब्लॉक प्रमुख के नामांकन के दौरान सदर ब्लॉक में सपा और भाजपा कार्यकर्ता भिड़ गए। मारपीट के दौरान जमकर ईंट-पत्थर चले। सपा कार्यकर्ताओं ने भाजपा मंडल अध्यक्ष रामजीवन राजपूत को पकड़ कर पीट दिया। अंदर कक्ष में बैठे एआरओ पारसनाथ की टेबल से उठाकर सभी अभिलेख फाड़ दिए, जिससे नामांकन नहीं हो सके। मौके पर मौजूद एसडीएम सदर गौरव शुक्ला ने पुलिस बल के साथ बवाल कर रहे लोगों को ब्लॉक से खदेड़ा। एसडीएम ने सहायक निर्वाचन अधिकारी विनीत कटियार से दूसरे अभिलेख मंगवाये हैं।

इसी तरह तालग्राम ब्लॉक में दो पक्षों के बीच जमकर पथराव हुआ। यहां चार राउंड हवाई फायरिंग हुई। सपा कार्यकर्ताओं का आरोप है कि भाजपा के लोग उनके उम्मीदवार को नामांकन नहीं करने दे रहे हैं। जिलाधिकारी राकेश मिश्र और एसपी प्रशांत वर्मा पहुंचे और मामले को शांत कराया। सौरिख ब्लॉक में भी पथराव और फायरिंग हुई है।

सीतापुर में चली 12 राउंड गोलियां, तीन घायल

सीतापुर जनपद के थाना कमलापुर में गुरुवार को कसमंडा ब्लॉक में नामांकन के दौरान जमकर उपद्रव हुआ। नामांकन करने जा रहे भाजपा से बागी उम्मीदवार को रोकने को लेकर बवाल हो गया। चश्मदीदों के मुताबिक तकरीबन 12 राउंड फायरिंग हुई है और कई हथगोले दागे गए। इसमें पकड़ू सिंह, कमलापुर के निवासी अखंड सिंह और भेलाहार के टिंकू यादव घायल हो गए। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने लोगों पर लाठियां भांजकर सभी को खदेड़ा। घटना के बाद तनाव की स्थिति को देखते हुए भारी फोर्स तैनात किया गया है।

इटावा में भाजपा समर्थक को मारी गोली

इटावा जिले में ब्लॉक प्रमुख चुनाव के नामांकन को लेकर एक बार फिर से खूनी संघर्ष शुरू हो गया है। भरथना इलाके में ब्लॉक प्रमुख पद के भाजपा उम्मीदवार राघवेंद्र दोहरे और उनके समर्थकों पर कातिलाना हमला किया गया है। आरोप है कि भाजपा उम्मीदवार के साथ आ रहे उसके समर्थक कोमल यादव पर सपाइयों ने गोली चला दी। घायल को आनन-फानन में सीएचसी में भर्ती कराया गया, जहां उनका इलाज जारी है।

घटना की जानकारी पर पहुंचे सीओ भरथना विजय सिंह, प्रभारी निरीक्षक बचन सिंह ने कोमल से पूरी घटना की जानकारी ली। एसएसपी डॉ. ब्रजेश कुमार सिंह ने बताया कि गोलीबारी की घटना की जांच के साथ ही आरोपियों की तलाश की जा रही है।

जौनपुर में बवाल के बाद वाहनों में की तोड़फोड़

जनपद के जलालपुर ब्लॉक प्रमुख पद के चुनाव के पहले ही दो उम्मीदवारों के समर्थकों में जमकर बवाल हुआ। जलालपुर ब्लॉक में निर्दलीय उम्मीदवार बदामा देवी और भाजपा की उम्मीदवार कमलेश कुमारी के गुट में जमकर मारपीट हुई है। निर्दलीय उम्मीदवार बदामा देवी के गुट से कुछ लोग लाल प्रताप सिंह के घर पर पहुंच गए और गाड़ियों में भी तोड़फोड़ शुरू कर दी। ग्रामीण इतने गुस्से में थे कि उन्होंने दूसरे गुट की तीन गाड़ी को भी पलट दिया। घटना के बाद भी पुलिस अभी तक किसी नतीजे पर नहीं पहुंच पाई है। पुलिस का कहना है कि कई लोगों को हिरासत में लेकर जांच पड़ताल की जा रही है।

पीलीभीत में भाजपा उम्मीदवार की गाड़ी पर हमला

पीलीभीत में भाजपा ने सर्वजीत सिंह को ब्लॉक प्रमुख अमरिया पद के लिए अधिकृत उम्मीदवार बनाया है। इस दौरान टिकट कटने के बाद पूर्व ब्लॉक प्रमुख निशान सिंह अमरिया ब्लॉक में अपने समर्थकों के साथ नामांकन कराने पहुंचे थे। भाजपा से टिकट पाने वाले सर्वजीत सिंह ने बीच रोड पर अपनी गाड़ियां लगाकर प्रत्याशियों को नामांकन करने से रोका। उम्मीदवार श्याम सिंह की माने तो उनकी गाड़ी पर हमला भी किया गया। बमुश्किल जान बचाकर ब्लॉक परिसर में नामांकन कराने पहुंचे।

झांसी बड़ागांव ब्लॉक में नामांकन के दौरान बवाल

जनपद झांसी के बड़ागांव ब्लॉक में ब्लॉक प्रमुख के लिए सपा-भजपा आमने-सामने आ गए और दोनों तरफ से जमकर पथराव हुआ। पुलिस ने लाठीचार्ज कर सभी को खदेड़ा। स्थिति तनावपूर्ण देखते हुए मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया। समाजवादी पार्टी के पूर्व सांसद चंद्रपाल सिंह यादव ने आरोप लगाया कि सत्ता पक्ष के लोग सपा को नामांकन नहीं करने दे रहे हैं और रास्ता रोके खड़े हैं। पुलिस उनका सहयोग कर रही है।

गोरखपुर में जमकर बवाल

गोरखपुर जिले में गुरुवार को ब्लॉक प्रमुख चुनाव के नामांकन के दौरान जमकर बवाल हुआ। शाहपुर इलाके के चरगावां ब्लॉक पर नामाकंन करने पहुंची भाजपा उम्मीदवार वंदना सिंह और उनके समर्थकों पर पहले से मौजूद भीड़ ने हमला बोल दिया। भीड़ ने उम्मीदवार समर्थकों के साथ मारपीट की। करीब आधा दर्जन लग्जरी गाड़ियों को भी तोड़ दिया। इस दौरान पुलिस ने लाठी चार्ज कर भीड़ को खदेड़ा।

उम्मीदवार वंदना सिंह के पति रणविजय सिंह ने आरोप लगाते हुए कहा कि समाजवादी पार्टी के रामाश्रय निषाद और सुनील पासवान हम लोगों के पहुंचने से पहले ही सैकड़ों की संख्या में भीड़ लेकर खड़े थे। वहां पहुंचने पर इन लोगों ने पहले तो हमें अंदर जाने से रोका और फिर विरोध करने पर मारपीट शुरू कर दी। इस दौरान उम्मीदवार पति सहित उनके समर्थक धीरज सिंह, सत्यम निषाद, अनिल सिंह आदि लोग गम्भीर रुप से घायल हो गए।

कानपुर देहात में सपा जिला पंचायत सदस्य को पीटा, हंगामा

रसूलाबाद में ब्लॉक प्रमुख पद नामांकन के दौरान भाजपा व सपा कार्यकर्ता आमने सामने हो गए और जमकर बवाल हुआ। भारी संख्या में अधिक भाजपा कार्यकर्ताओं ने सपा से जिला पंचायत सदस्य राजकुमार यादव को पीट दिया। हंगामा होने लगा तो एसडीएम व पुलिस ने सभी को खदेड़ा। वहीं ब्लॉक में मौजूद भाजपा विधायक निर्मला संखवार को भी एसडीएम ने बाहर किया।

उन्नाव में निर्दलीय उम्मीदवार का पर्चा छीना

नवाबगंज खंड विकास कार्यालय में भाजपा समर्थकों द्वारा दो निर्दलीय उम्मीदवार का पर्चा छीन लेने के मामले ने तूल पकड़ लिया। दोनों तरफ से समर्थकों के बीच बवाल हुआ। खंड विकास कार्यालय पर भाजपाइयों ने घेर लिया। इसके बाद पुलिस ने सभी को खदेड़ा और पुलिस की मौजूदगी में उम्मीदवारों ने पर्चा भरा है।

अयोध्या ब्लॉक परिसर में हंगामा

मया ब्लॉक परिसर में नामांकन के दौरान सपा और भाजपा कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए। दोनों समर्थकों में मारपीट होने लगे। भीड़ ने सपा उम्मीदवार धर्मवीर वर्मा के प्रस्तावक को पीटा। बवालियों को शांत कराने के लिए भीड़ ने जमकर लाठियां भांजी है।

गोण्डा में उम्मीदवार सिंह के काफिले पर पथराव

गोण्डा जिले में नामांकन करने जा रही भाजपा उम्मीदवार वंदना सिंह के काफिले पर पथराव कर दिया गया। इस दौरान कई समर्थक घायल हो गये। वाहन क्षतिग्रस्त हो गये। पुलिस ने कड़ी सुरक्षा में उम्मीदवार को सुरक्षित नामांकन स्थल पर पहुंचाया। उम्मीदवार ने आरोप लगाया है कि सपा उम्मीदवार ने यह पथराव कराया है।

बुलंदशहर : भाजपा के गुटों में बवाल

बुलंदशहर में स्याना ब्लॉक प्रमुख चुनाव के नामांकन के दौरान नामांकन स्थल के बाहर भाजपा के दो गुटों में बवाल हो गया। भाजपा भाजपा के घोषित और अघोषित उम्मीदवार अपने समर्थकों के साथ नामांकन करने पहुंच गए थे। नामांकन स्थल के बाहर ही दोनों गुट आपस में भिड़ गए और जमकर पथराव हुआ। पुलिस को स्थिति संभालने के लिए लाठीचार्ज किया।

अम्बेडकर नगर में नामांकन पत्र फाड़ा

टांडा ब्लाक प्रमुख पद के नामांकन के दौरान भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार तेजस्वी जायसवाल ने पूर्व मंत्री लालजी वर्मा के हाथ से सुरजीत वर्मा का नामांकन पत्र छीनकर फाड़ दिया। इस घटना से वहां माहौल तनावपूर्ण हो गया। हालात को देखते हुए पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर सभी को खदेड़ दिया। हालांकि सुरजीत वर्मा ने बाद में तीन और नामांकन पत्र खरीद कर नामांकन पत्र दाखिल किया। तेजस्वी को स्थानीय विधायक संजू देवी का खास माना जाता है तथा भाजपा ने उन्हें अपना अधिकृत उम्मीदवार घोषित किया है। दूसरी तरफ सुरजीत वर्मा को पूर्व मंत्री लालजी वर्मा ने चुनाव मैदान में उतारा है। उन्हें समाजवादी पार्टी ने भी अपना समर्थन दे रखा है।