Sat. Sep 18th, 2021

भारतीय महिला हॉकी टीम ने रचा इतिहास, अजेय ऑस्ट्रेलिया को हराकर पहली बार ओलंपिक के सेमीफाइनल में किया प्रवेश


टोक्यो, 2 अगस्त (हि.स.)।भारतीय महिला हॉकी टीम ने अब तक टूर्नामेंट में अजेय रही ऑस्ट्रेलियाई टीम को 1-0 से हराकर टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है।यह पहली बार है जब भारतीय टीम ने ओलंपिक के सेमीफाइनल में जगह बनाई है।

क्वार्टर फाइनल मुकाबले में भारतीय टीम का प्रदर्शन देखने लायक था। खासकर गोलकीपर सविता पूनिया का। ऑस्ट्रेलिया को सात पेनल्टी कॉर्नर मिले लेकिन वह एक को भी गोल पोस्ट में नहीं पहुंचा पाई।

ड्रैग-फ्लिकर गुरजीत कौर ने मैच के 22वें मिनट में गोल कर भारत को बढ़त दिलाई और अंत मे यही स्कोर निर्णायक साबित हुआ।

भारतीय टीम ने टोक्यो में अच्छी शुरुआत नहीं की थी। टीम को पहले तीन मुकाबलाें में बड़ी हार मिली थी। टीम को नीदरलैंड्स ने 5-1 से, जर्मनी ने 2-0 से और ब्रिटेन ने 4-1 से मात दी थी। ऐसे में लग रहा था कि टीम टूर्नामेंट से बाहर हो जाएगी। लेकिन टीम ने जोरदार वापसी की और अब सेमीफाइनल में अपनी जगह बना ली है।भारतीय टीम का सेमीफाइनल मुकाबला बुधवार को अर्जेंटीना के खिलाफ होगा।

बता दें कि भारतीय महिला हॉकी टीम का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 1980 के मॉस्को ओलंपिक में था जहां वह छह टीमों में चौथे स्थान पर रही थी।

1980 के मॉस्को ओलंपिक में ही पहली बार महिला हॉकी को ओलंपिक में शामिल किया गया था। यहां राउंड-रॉबिन में छह टीमों ने भाग लिया था।