Mon. Aug 2nd, 2021

गुलाबी शहर के लिए गर्व का पल: टोक्यो ओलंपिक्स में हिस्सा ले रहे जयपुर के तीन निशानेबाज


जयपुर, 19 जुलाई (हि.स.)। यह बेहद की गर्व की बात है, गुलाबी शहर के तीन निशानेबाज 23 जुलाई से शुरू होने वाले टोक्यो ओलंपिक्स में हिस्सा लेने जा रहे हैं। अपूर्वी चंदेला (10 मीटर एयर राइफल), दिव्यांश सिंह पंवार (10 मीटर एयर राइफल) और अवनी लेखरा (पैरा) 50 मीटर एयर राइफल, टोक्यो पहुंच गए हैं और वे असाका शूटिंग रेंज में शूटिंग करेंगे।

खुशी की बात यह है कि उन्होंने राजस्थान राइफल एसोसिएशन द्वारा प्रबंधित जयपुर की प्रसिद्ध विश्व स्तरीय शूटिंग रेंज से अपने शूटिंग करियर की शुरुआत की। वार्षिक स्टेट ओपन शूटिंग चैंपियनशिप भी यहीं आयोजित की जाती है। चंदेला पूर्व विश्व चैंपियन हैं और 2014 में ग्लासगो में कॉमनवैल्थ गेम्स में स्वर्ण पदक विजेता भी हैं। उन्होंने पिछले ओलंपिक में भी हिस्सा लिया था। 18 वर्षीय पंवार 2019 विश्व कप में 10 मीटर एयर इवेंट में रजत पदक विजेता थे। वह इस समय दुनिया में दूसरे नंबर पर हैं। लेखरा ने 2015 और 2016 में नेशनल शूटिंग चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीते हैं। उन्होंने 2017 में दुबई में हुए आईपीसी पैरा शूटिंग वर्ल्ड कप में भी रजत पदक जीता था।

राजस्थान राइफल एसोसिएशन के सेक्रेटरी जनरल शशांक कौरानी ने कहा कि हम सभी उम्मीद कर रहे हैं कि जयपुर के ये तीन निशानेबाज उन्हे ओलंपिक पदक दिलाएंगे। राजस्थान में शूटिंग के खेल का गौरवशाली इतिहास रहा है और मैं महसूस कर सकता हूं कि हम एक गौरवशाली क्षण के करीब हैं।

राजस्थान में पूर्व ओलंपियन निशानेबाजों की समृद्ध विरासत है, जैसे डॉ. करणी सिंह बीकानेर ने 5 ओलंपिक में भाग लिया, केशव सेन, देवी सिंह, भीम सिंह कोटा और कर्नल राज्यवर्धन सिंह राठौड़, जिन्होंने 2004 में एथेंस ओलंपिक में रजत पदक जीता था। जयपुर की शगुन चौधरी भी ओलंपियन निशानेबाज हैं और उन्होंने 2012 में लंदन में हुए ओलंपिक में हिस्सा लिया था।