Sat. Jul 31st, 2021

तालिबान का फरमान- बिना पुरुषों के घर से बाहर न जाएं महिलाएं


काबुल, 15 जुलाई (हि.स.)। उत्तर अफगानिस्तान के दूरस्थ क्षेत्रों पर कब्जा करने के बाद तालिबान ने स्थानीय इमामों को अपना पहला आदेश जारी किया है। इसमें कहा गया है कि महिलाएं बिना पुरुषों के घर से बाहर न जाएं और पुरुष दाढ़ी नहीं बनाएं। साथ ही कहा गया है कि जो इस आदेश का पालन नहीं करेगा उससे सख्ती से निपटा जाएगा।

अफगानिस्तान के जिन शहरों को तालिबान ने घेर रखा है, वे उत्तर के उन प्रांतों में हैं जिनकी सीमाएं अफगानिस्तान के मध्य एशिया के पड़ोसी देशों से लगती हैं। जिन क्षेत्रों में तालिबान ने कब्जा किया हुआ है वहां पर रहनेवाली एक महिला ने मीडिया को बताया कि इन क्षेत्रों में कई ऐसी महिलाएं हैं जो कार्य के सिलसिले में घरों से बाहर जाती हैं। इस आदेश के बाद वह सब डरी हुई हैं। महिलाओं के स्कूल जाने पर भी पाबंदी लगा दी गई है।

तालिबान ने कहा है कि कोई भी व्यक्ति विशेषकर युवा हरे कपड़े भी नहीं पहने। साथ ही पुरुषों को पगड़ी पहनने के आदेश जारी किए गए हैं।

उल्लेखनीय है कि उत्तरी अफगानिस्तान में कई लोग अपना घर-बार छोड़कर जाने के लिए मजबूर हो गए हैं। यह लोग मजार-ए-शरीफ में एक चट्टान पर बने अस्थायी शिविर में रह रहे हैं। इन लोगों का कहना है कि यह लोग तालिबान के अधीन क्षेत्रों में काम नहीं कर पाएंगे इसलिए जगह छोड़कर जा रहे हैं।