Sun. Oct 17th, 2021

अफगानिस्तान : हेलमंद प्रांत में तालिबान ने दाढ़ी बनाने और बाल कटवाने पर लगाई रोक

In this picture taken on September 19, 2021, a barber waits for customers at his shop in Herat. (Photo by Hoshang Hashimi / AFP)


काबुल, 27 सितंबर (हि.स.)। अफगानिस्तान में तालिबान ने महिलाओं के सार्वजनिक अधिकार लगभग खत्म करने के बाद अब पुरुषों के अधिकारों पर कैंची चलाना शुरू कर दिया है। तालिबान ने अब एक नया फरमान जारी करते हुए हेलमंद प्रांत में नाइयों को बाल काटने और दाढ़ी बनाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। यहां तक की सैलून में संगीत सुनने पर भी पाबंदी लगाई गई है। इस तालिबानी फरमान की जो भी अनदेखी करेगा, उसे कड़ी सजा दी जाएगी। इसको लेकर तालिबान ने एक सार्वजनिक पत्र भी जारी किया है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक तालिबान की चिट्ठी के हवाले से लिखा गया है कि अफगानिस्तान के हेलमंद प्रांत में तालिबान ने स्टाइलिश हेयरस्टाइल और दाढ़ी बनाने पर पाबंदी लगा दी है। मिनिस्ट्री ऑफ इस्लामिक ओरिएंटेशन के अधिकारियों ने इस संबंध में प्रांतीय राजधानी लश्कर गाह में हेयरड्रेसिंग सैलूनों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की थी, जिसमें हेयर स्टाइलिंग और दाढ़ी बनाने को लेकर चेतावनी दी गई थी।

तालिबान में तेजी से मानवाधिकार उल्लंघन की घटनाएं बढ़ रही हैं। इससे पहले शनिवार को तालिबान ने पश्चिमी अफगानिस्तान के हेरात शहर में शव को चौराहे पर टांग दिया था। शव को टांगने के लिए क्रेन की मदद ली गई थी। उल्लेखनीय है कि 15 अगस्त को काबुल पर कब्जे के बाद से ही तालिबान ने देशभर में शरिया कानून का कड़ाई से पालन करवाना शुरू कर दिया है।