Tue. Oct 26th, 2021

तालिबान ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानें फिर से शुरू करने की अपील की


काबुल, 27 सितंबर (हि.स.)। तालिबान ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को फिर से शुरू करने की अपील की है। साथ ही उन्होंने एयरलाइन के साथ पूरा सहयोग करने का वादा भी किया है।

तालिबान ने कहा है कि काबुल हवाई अड्डे पर सभी तरह की समस्याओं को सुलझा लिया गया है और यह सभी घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिए तैयार है।

विदेश मंत्रालय की ओर से यह बयान ऐसे समय में आया है, जब अगस्त में सत्तारूढ़ हुई तालिबान सरकार ने देश को खोलने और अंतरराष्ट्रीय स्वीकृति हासिल करने के प्रयास तेज कर दिए हैं।

हवाई अड्डे से सीमित संख्या में सहायता और यात्री उड़ानों का संचालन किया जा रहा है। हालांकि सामान्य वाणिज्यिक सेवाएं अभी तक फिर से शुरू नहीं हुई हैं, क्योंकि काबुल पर तालिबान की विजय के बाद हजारों विदेशियों और कमजोर अफगानों की अराजक निकासी के मद्देनजर इसे बंद कर दिया गया था।

निकासी के दौरान क्षतिग्रस्त हुए हवाई अड्डे को कतर और तुर्की की तकनीकी टीमों की सहायता से फिर से खोल दिया गया है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अब्दुल कहर बल्खी ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के निलंबन से कई अफगानी नागरिक विदेश में फंसे हुए हैं और लोगों को काम पर जाने या पढ़ाई करने से भी रोका गया है।

काबुल अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर समस्याओं का समाधान किया गया है और हवाईअड्डा घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिए पूरी तरह से तैयार है। आईईए (इस्लामिक एमीरेट ऑफ अफगानिस्तान) सभी एयरलाइनों को अपने पूर्ण सहयोग का आश्वासन देता है।

उन्होंने कहा कि सत्ता संभालने के बाद से तालिबान गंभीर आर्थिक संकट से जूझ रहा है और लड़कियों की शिक्षा से लेकर पूर्व सरकार के पूर्व अधिकारियों और अन्य के प्रतिशोधात्मक आरोपों आदि को लेकर वह दबाव का सामना कर रहा है।