Fri. Jul 30th, 2021

अभी भी सस्पेंस बरकरार दिल्ली के नए पुलिस कमिश्नर को लेकर


नई दिल्ली, 28 जून (हि.स.)। दिल्ली पुलिस कमिश्नर एसएन श्रीवास्तव आगामी 30 जून को सेवानिवृत्त होने जा रहे है, एक तरफ जहां उन्हें एक्सटेंशन की उम्मीद है तो वहीं 1987 और 1988 बैच के आईपीएस अधिकारी कमिश्नर बनने की कतार में खड़े हैं। ऐसे में सबकी निगाहें गृह मंत्रालय पर टिकी हैं, इस बाबत मंगलवार तक अहम घोषणा हो सकती है।
जानकारी के अनुसार, पुलिस कमिश्नर एसएन श्रीवास्तव ने 28 फरवरी 2020 को पुलिस कमिश्नर का अतिरिक्त कार्यभार संभाला था।  मई 2020 में वह कमिश्नर बनें। पूर्वी दिल्ली दंगे की जांच से लेकर कोरोना संक्रमण के बीच एक साल से ज्यादा समय तक पुलिस कमिश्नर एसएन श्रीवास्तव ने पुलिस फोर्स की कमान संभाली है। ऐसे में चर्चा है कि श्रीवास्तव के कामकाज को देखते हुए उन्हें पुलिस कमिश्नर पद पर एक्सटेंशन मिल सकता है। इससे पहले  पूर्व कमिश्नर अमूल्य पटनायक को एक माह का एक्सटेंशन दिया गया था, लेकिन इसकी वजह दिल्ली में चल रहे विधानसभा चुनाव थे।
पुलिस कमिश्नर पद के है कई दावेदार
एसएन श्रीवास्तव के सेवानिवृत्त होने पर पुलिस कमिश्नर पद के लिए कई दावेदार मौजूद हैं। इनमें सबसे पहला नाम 1988 बैच के आईपीएस अधिकारी बालाजी श्रीवास्तव का है। वह पुलिस कमिश्नर पद के प्रबल दावेदार हैं। अभी वो विशेष आयुक्त विजिलेंस हैं। इससे पूर्व वह पुडुचेरी के डीजी रह चुके हैं। दूसरे नंबर पर कमिश्नर पद के लिए विशेष आयुक्त ट्रैफिक ताज हसन का नाम है, वो 1987 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं और अभी दिल्ली पुलिस में नंबर दो पद पर तैनात हैं। तीसरे नंबर पर 1988 बैच के आईपीएस अधिकारी एसबीके सिंह का नाम है। फिलहाल वो मिजोरम के डीजी है। इनके अलावा 1987 बैच के जम्मू कश्मीर डीजी दिलबाग सिंह का नाम भी सीपी की रेस में है, लेकिन अभी जिस तरह के हालात जम्मू कश्मीर में हैं, उन्हें वहां से हटाना मुश्किल होगा।
मंगलवार को हो सकती है महत्वपूर्ण घोषणा
पुलिस कमिश्नर एसएन श्रीवास्तव को एक्सटेंशन मिलेगा या वह सेवानिवृत्त होकर घर जाएंगे, इसकी घोषणा आगामी मंगलवार तक गृह मंत्रालय कर सकता है, अगर एसएन श्रीवास्तव को एक्सटेंशन नहीं मिलता है तो ऐसे में नए पुलिस कमिश्नर के नाम की घोषणा भी की जा सकती है।