Mon. Aug 2nd, 2021

चिकित्साः 16 वर्षीय किशोरी के डिंबाशय से 30 किग्रा वजनी ट्यूमर का सफल आपरेशन


डिब्रूगढ़ (असम), 22 जुलाई (हि.स.)। डिब्रूगढ़ स्थित असम चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल के चिकित्सकों ने एक बड़ी सफलता हासिल की है। चिकित्सा महाविद्यालय के चिकित्सकों ने एक 16 वर्षीय किशोरी के शरीर से 30 किग्रा वजनी ट्यूमर का सफलता पूर्वक आपरेशन कर एक बड़ी उपलब्धि हासिल की है। बेहद जटिल आपरेशन के जरिए चिकित्सकों के दल ने किशोरी के डिंबाशय से भारी वजन के ट्यूमर को काटकर बाहर निकाल दिया।

असम चिकित्सा महाविद्यालय के प्राचार्य तथा चिकित्सालय के मुख्य अधीक्षक संजीव काकती ने बताया है कि भारी वजनी ट्यूमर शरीर में होने की वजह से युवती बेहद संकटमय स्थिति थी। वरिष्ठ चिकित्सक डॉ करुना दास के प्रयास और चिकित्सा महाविद्यालय के अन्य चिकित्सक, चिकित्सा कर्मियों के सहयोग से ट्यूमर को सफलतापूर्वक शरीर से आपरेशन के जरिए बाहर निकाल लिया गया।

आपरेशन के पश्चात किशोरी के सभी अंग पूरी तरह से काम कर रहे हैं। वर्तमान में किशोरी की शारीरिक स्थिति बेहतर है। यह आपरेशन बुधवार को देर शाम तक चला। डॉ काकती ने बताया है कि असम चिकित्सा महाविद्यालय के इतिहास में एक यह विशेष उपलब्धि के रूप में दर्ज हो गया है।

बेहद जटिल आपरेशन को सफलापूर्वक संपन्न करने क लिए डॉ काकती ने चिकित्सा महाविद्यालय के आपरेशन में शामिल सभी चिकित्सकों का धन्यवाद एवं आभार जताया है। किशोरी के शरीर में 30 किग्रा वजनी ट्यूमर को निकालने के लिए लंबे समय तक आपरेशन किया गया। चिकित्सा महाविद्यालय के प्रो. डॉ आर सोनोवाल, डॉ प्रणति दत्त और डॉ ऐश्वर्य लक्ष्मी के प्रयासों से यह आपरेशन सफलतापूर्वक संपन्न हुआ।

आपरेशन में एनेस्थेसिया विशेषज्ञ सहायक प्रो डॉ केके दास, डॉ अमरेंद्र डेका, डॉ आर गिरि प्रशांत, डॉ कुशल बिजलानी, डॉ सुदीप पाल, डॉ सिरदीप सेनगुप्ता और नर्स रेखा ज्योति ने भी योगदान दिया।