Fri. Jul 30th, 2021

मालवाहक जहाज में आग लगने से प्रभावित मछुआरों को मिलेगा मुआवजा

Sri Lanka fishermen prepare their nets before embarking on a deep sea fishing expedition in Dodanduwa, some 135kms south-east of Colombo, 24 December 2005, as the first anniversary of the tsunami approaches. Tsunami waves triggered by an undersea earthquake off the northern Indonesian island of Sumatra 26 December 2004, claimed at least 227,000 lives and affected more then 2.2million other people in the countries bordering the Indian ocean, according to the Red Cross. AFP PHOTO/Lakruwan WANNIARACHCHI. / AFP PHOTO / LAKRUWAN WANNIARACHCHI


कोलंबो, 12 जुलाई (हि.स.)। श्रीलंका की सरकार की ओर से सोमवार को घोषणा की गई है कि सिंगापुर के मालवाहक जहाज में आग लगने से प्रभावित मछुआरों को मुआवजा दिया जाएगा। इस प्रक्रिया की शुरुआत कर दी गई है।

दरअसल, मालवाहक जहाज एमवी एक्सप्रेस पर्ल में 21 मई को कोलंबो पोर्ट के पास आग लग गई थी, जिसके कारण जहाज 17 जून को डूब गया था।

मत्स्य राज्य मंत्री कंचना विजेसेकेरा ने बताया कि जहाज के मालिकों की बीमा कंपनी पर लगाए गए अंतरिम दावे के कारण हम मुआवजा दे पाएंगे। उन्होंने बताया कि 720 मिलियन श्रीलंका रुपये की राशि बीमा से मिली है और इसमें से 420 मिलियन की धनराशि का प्रयोग मछुआरों को मुआवजा देने के लिए किया जाएगा।

इस आपदा के कारण व्हेल, कछुओं सहित बड़ी संख्या में समुद्री जीवों को नुकसान हुआ है। पर्यावरणविदों ने इसे देश के इतिहास में सबसे खराब आपदाओं में से एक करार दिया है।

समुद्री पर्यावरण संरक्षण प्राधिकरण की अध्यक्ष दर्शनी लहांदापूरा ने बताया कि जहाज में आग लगने से हुए नुकसान का पूरी तरह से आकलन करने के लिए कम से कम तीन महीने का समय लगेगा।