Mon. Aug 2nd, 2021

स्पुतनिक-वी टीका 90 फीसदी प्रभावी कोरोना के डेल्टा वेरिएंट पर


मास्को, 30 जून (हि.स.)। कोरोना के डेल्टा वेरिएंट के खिलाफ स्पुतनिक-वी टीका 90 फीसदी प्रभावी है। यह दावा रूस ने अपने देश में बनी टीका के लिए किया है, जबकि टीका लॉन्चिंग के समय कोरोना के मूल स्ट्रेन पर 92 फीसदी प्रभावी रहने का दावा किया गया था।

एक रिपोर्ट के अनुसार मास्को के गामालेया संस्थान के उप निदेशक डेनिस लोगुनोव ने कहा कि यह दावा डेल्टा वेरिएंट पर स्पुतनिक-वी टीका के प्रभाव और आंकड़े की गणना के साथ डिजिटल मेडिकल और टीका रिकॉर्ड के आधार पर किया गया है।

वहीं, रूसी अधिकारियों ने संक्रामक डेल्टा संस्करण को कोरोना के मामलों में हालिया उछाल के लिए जिम्मेदार ठहराया है। उनका मानना है कि कोरोना के सभी नए मामलों का लगभग 90 फीसदी हिस्सा नए स्ट्रेन का ही है।

गामालेया इंस्टीट्यूट के निदेशक अलेक्जेंडर गिंट्सबर्ग के अनुसार दुनिया भर के देशों में डेल्टा वेरिएंट अभी शुरुआती स्टेज पर है। अगर इसे लेकर कोई सख्त कदम नहीं उठाए गए, तो स्थिति बिगड़ सकती है।

एक अन्य स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि डेल्टा वेरिएंट के कारण जर्मनी में कोरोना के मामले दोगुनी रफ्तार से बढ़े हैं, जिसके चलते आशंका है कि आने वाले दिनों में नया स्ट्रेन सभी संस्करणों पर हावी हो जाएगा।

रूस की आबादी करीब 14.4 करोड़ है। यहां अब तक कोरोना के करीब 55 लाख मामले दर्ज किए गए हैं। देश ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए चार घरेलू टीकों को मंजूरी दी हुई है।