Mon. Nov 29th, 2021

भाजपा के सांगठनिक इतिहास में पहली बार शाहाबाद के लाल ऋतुराज सिन्हा को मिला राष्ट्रीय मंत्री का पद


भोजपुर के लाल ऋतुराज सिन्हा को राष्ट्रीय मंत्री बनाये जाने पर भाजपा नेताओं ने दी बधाई



आरा,22 नवम्बर(हि. स)।भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने पार्टी के राष्ट्रीय कमिटी में पांच नए चेहरों को जगह दी है और इन पांच नए चेहरों में भोजपुर और पुराने शाहाबाद का एक चेहरा भी शामिल है।भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने राष्ट्रीय युवा नेता ऋतुराज सिन्हा को राष्ट्रीय कमिटी में राष्ट्रीय मंत्री के पद पर नियुक्ति करके न सिर्फ बिहार का मान बढ़ाया है बल्कि भोजपुर और पुराने शाहाबाद की धरती को गौरवान्वित भी कर दिया है।भारतीय जनता पार्टी के सांगठनिक इतिहास में भोजपुर और पुराने शाहाबाद से अब तक कोई भी चेहरा पार्टी के राष्ट्रीय कमिटी में राष्ट्रीय मंत्री पद तक का सफर तय नही कर पाया है और पहली बार भोजपुर और पुराने शाहाबाद की धरती के लाल ऋतुराज सिन्हा को राज्य और देश मे सत्तारूढ़ और दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी भारतीय जनता पार्टी में राष्ट्रीय मंत्री के पद पर अहम जिम्मेदारी मिली है।

भोजपुर जिले के कोइलवर प्रखण्ड स्थित बहियारा गांव के मूल निवासी ऋतुराज सिन्हा को भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व द्वारा राष्ट्रीय मंत्री का दायित्व सौंपे जाने के बाद भोजपुर और पुराने शाहाबाद की जनता में खुशी की लहर है।भाजपा के पदाधिकारियों,नेताओं, कार्यकर्ताओं और नागरिकों में अपनी धरती के लाल के राष्ट्रीय कमिटी में बड़ी जिम्मेदारी मिलने से खुशी की लहर है।नवनियुक्त राष्ट्रीय मंत्री ऋतुराज सिन्हा को बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है और सोशल मीडिया पर उनकी तस्वीरों के साथ उन्हें बधाई देने एवं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी,गृह मंत्री अमित शाह व राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के प्रति आभार व्यक्त करने का सिलसिला जारी है।ऋतुराज भारतीय जनता पार्टी के संस्थापक सदस्य और पूर्व राज्यसभा सांसद आरके सिन्हा के पुत्र हैं और उन्होंने अपनी राजनैतिक सूझ बूझ और क्षमता से पार्टी में राष्ट्रीय स्तर पर अपनी मजबूत पकड़ बनाई है।

उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के हर एक फैसले को समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति तक पहुंचाने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।नोटबंदी के समय अपनी मेधा का परचम लहराते हुए उन्होंने तेजी से बहुत ही कम समय मे अपनी निजी सुरक्षा एजेंसी के कर्मियों के साथ मिलकर देश के कोने कोने तक हर एक एटीएम में नए नोट पहुंचा कर पीएम नरेंद्र मोदी के फैसलों को धरातल तक पहुंचा दिया था और इस कदम का लाभ सीधे समाज के अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति को मिला था।यही नहीं जब देश दुनिया भर में फैले कोरोना महामारी की चपेट में आया तब ऋतुराज सिन्हा ने अपने ढाई लाख कर्मियों को एक साथ सड़को पर उतारकर देश भर के रेलवे स्टेशनो,बस अड्डो,बड़े बड़े अपार्टमेंट्स, बाजारों,प्लेटफार्मो,ट्रेनों और शहरों को देखते ही देखते सेनेटाइज कराकर इतिहास रच दिया।

ऋतुराज सिन्हा के इस साहसिक और ऐतिहासिक कार्यो को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी न सिर्फ सराहा,प्रशंसा की बल्कि उन्हें देश का रियल हीरो बताया।उन्होंने भारतीय जनता पार्टी में रहते कई बड़ी जिम्मेदारियां भी निभाई।बिहार विधानसभा चुनाव में प्रचार अभियान का कमान संभालने से लेकर घोषणा पत्र बनाने जैसे महत्वपूर्ण जिम्मेदारियों को उन्होंने सफलता पूर्वक पूरा किया और कई पदों पर रहे।वे भाजपा के तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष और फिलहाल भारत सरकार के गृह राज्य मंत्री नित्यानन्द राय के कार्यकाल में भाजपा के बिहार प्रदेश के मंत्री भी रहे हैं।हाल ही में भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने उन्हें राष्ट्रीय कैडेट कोर को बदलते वक्त के साथ आधुनिकीकरण और सशक्तिकरण करने के उद्देश्य से बनाई गई एक उच्चस्तरीय कमिटी का सदस्य भी बनाया है। कुल 15 सदस्यीय इस कमिटी में पूर्व क्रिकेट कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और महिंद्रा एंड महिंद्रा के चेयरमैन आनंद महिंद्रा जैसी नामी गिरामी हस्तियां भी शामिल हैं।

बता दें कि ऋतुराज सिन्हा वर्ष 2005 से राजनीति में सक्रिय हैं।वर्ष 2014 में वे लोकसभा चुनाव में फ्रंट लाइन पर काम करते नजर आए।वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में पार्टी नेतृत्व ने उन्हें कैंपेन कमेटी में बड़ी भूमिका दी थी, जबकि वर्ष 2015 में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने उन्हें प्रचार अभियान समिति के सदस्य के तौर पर बड़ा दायित्व सौंपा।यह अपने आप में बेहद महत्वपूर्ण और जिम्मेदारी से भरा पद था।वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में उन्हें राष्ट्रीय स्तर पर बड़ी जिम्मेदारी दी गई थी और उन्हें इस लोकसभा चुनाव में नेशनल कैंपेन कमेटी का सदस्य बनाया गया था।आठ सदस्यीय यह कमिटी स्व.अरुण जेटली के नेतृत्व में बनाई गई थी।