Sun. Dec 5th, 2021

ईडी के समक्ष पेश नहीं हुए अनिल देशमुख के बेटे ऋषिकेश, मांगी मोहलत


मुंबई, 05 नवंबर (हि.स.)। महाराष्ट्र के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख के बेटे ऋषिकेश देशमुख शुक्रवार को अवैध वसूली एवं मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में पूछताछ के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के दफ्तर में उपस्थित नहीं हुए। ऋषिकेश ने अपने वकील इंद्रपाल सिंह के जरिए ईडी को पत्र भेजकर मोहलत मांगी है। इस पर ईडी की प्रतिक्रिया अभी नहीं मिल सकी है।

वकील इंद्रपाल सिंह ने पत्रकारों से कहा कि अनिल देशमुख ने ईडी की जांच का विरोध करते हुए सुप्रीम कोर्ट और हाई कोर्ट में याचिका दाखिल की थी। दोनों जगह से अनिल देशमुख को राहत नहीं मिली। हाई कोर्ट ने इस मामले में कहा था कि वे आरोपित नहीं है, इसलिए वे जांच का सामना करें। उन पर कठोर कार्रवाई नहीं की जा सकती है। इसलिए अनिल देशमुख ईडी के समक्ष पेश हुए और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। ईडी ने गुरुवार को इसी मामले में अनिल देशमुख के बेटे ऋषिकेश को भी समन जारी कर आज पूछताछ के लिए बुलाया था। ईडी के समन को मुंबई सत्र न्यायालय में चुनौती दी जाएगी।

उल्लेखनीय है कि मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह ने अनिल देशमुख पर 100 करोड़ रुपये की अवैध वसूली का पुलिसकर्मियों को टारगेट देने का आरोप लगाया था। इस मामले की मनी लॉन्ड्रिंग एंगल से जांच ईडी कर रहा है। ईडी ने इस मामले में अनिल देशमुख को 2 नवंबर को गिरफ्तार किया है, जो इस समय ईडी की हिरासत में हैं।