Sat. Oct 31st, 2020

भायखला जेल से 28 दिनों बाद रिहा हुई रिया चक्रवर्ती


बॉम्बे हाईकोर्ट से एक लाख मुचलके पर मिली जमानत, भाई शौविक अभी रहेगा जेल में  जेल के बाहर रिया की रिहाई के मौके पर काफी पुलिस बंदोबस्त किया गया



मुंबई, 07 अक्टूबर (हि.स.)। ड्रग्स मामले में गिरफ्तार फिल्म अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती को बॉम्बे हाईकोर्ट से जमानत मिलने के बाद बुधवार को 28 दिनों बाद भायखला जेल से रिहा कर दिया गया। रिया जेल से निकलने के बाद सीधे अपने घर पहुंची। जेल के बाहर रिया की रिहाई के मौके पर काफी पुलिस बंदोबस्त किया गया था।
सुशांत सिंह मौत प्रकरण में रिया चक्रवर्ती की प्रवर्तन निदेशालय और केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो ने पूछताछ की थी। इसी दौरान ईडी की छानबीन में ड्रग्स एंगल का पता चला। इसके बाद एनसीबी ने ड्रग्स एंगल की जांच शुरू की। एनसीबी ने मामले की जांच ड्रग्स पेडलरों से शुरू किया और इसके तार रिया तक पहुंच गए। एनसीबी ने रिया को 8 सितंबर को गिरफ्तार कर लिया था। रिया को 8 सितंबर की रात एनसीबी के लॉकअप में ही गुजारनी पड़ी थी। 9 सितंबर को रिया को भायखला जेल में शिफ्ट किया गया था। इसके बाद रिया के वकील सतीश मानेशिंदे रिया की जमानत का प्रयास करते रहे। विशेष कोर्ट के बाद सेशन में रिया की जमानत याचिका खारिज होने के बाद वकील सतीश मानेशिंदे ने रिया की जमानत याचिका हाईकोर्ट में दायर की थी।
हाईकोर्ट में रिया के वकील व सरकारी वकील के बीच जिरह के बाद हाईकोर्ट ने अपना निर्णय सुरक्षित रख दिया था। बुधवार सुबह न्यायमूर्ति सारंग कोतवाल ने रिया को ड्रग्स मामले का हिस्सा नहीं मानते हुए उन्हें एक लाख रुपये के मुचलके पर जमानत दे दी। रिया के साथ ही सुशांत के मैनेजर सैमुअल मिरांडा व दीपेश सावंत को भी हाईकोर्ट ने जमानत दे दी। हालांकि इस मामले में रिया के भाई शोविक व ड्रग पेडलर अब्दुल बासित परिहार की जमानत याचिका खारिज कर दी। रिया के पिता इंद्रजीत चक्रवर्ती ने रिया की रिहाई का स्वागत किया है और कहा कि शोविक की जमानत के लिए उनका प्रयास जारी रहेगा।