Mon. Nov 29th, 2021

पंजाब पुलिस ने एक और संभावित आतंकी हमले को किया नाकाम, तीन गिरफ्तार, टिफिन बम बरामद


चंडीगढ़, 05 नवम्बर (हि.स.)। सरहदी राज्य पंजाब में एक और संभावित आतंकवादी हमले को नाकाम करते हुए पंजाब पुलिस ने दीवाली की पूर्व संध्या पर ज़िला फ़िरोज़पुर में भारत-पाकिस्तान सीमा के नजदीक गांव अली के में खेतों में छुपाकर रखे टिफिन बम को बरामद किया है।

डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (डीजीपी) पंजाब इकबाल प्रीत सिंह सहोता ने बताया कि लुधियाना ग्रामीण पुलिस ने सोमवार को दो व्यक्तियों को जलालाबाद बम धमाके मामले में दोषी रणजीत सिंह उर्फ गोरा को पनाह देने और सहायता करने के दोष के अंतर्गत गिरफ़्तार किया था। जलालाबाद बम धमाका केस की जांच एनआईए द्वारा की जा रही है।

उन्होंने बताया कि गिरफ़्तार किये गए व्यक्तियों की पहचान जसवंत सिंह उर्फ शिंदा बाबा निवासी गांव झुग्गे निहंगां वाला, फ़िरोज़पुर और बलवंत सिंह निवासी गांव वलीपुर खुर्द, लुधियाना के तौर पर हुई है। इसके अलावा रणजीत सिंह उर्फ गोरा को भी गिरफ़्तार किया गया है।

बता दें कि गांव झुग्गे निहंगा वाले के बलविन्दर सिंह उर्फ बिंदु की 15 सितम्बर 2021 को रात आठ बजे के करीब जलालाबाद शहर में एक मोटरसाइकिल धमाके में मौत हो गई थी। वह आपराधिक पृष्ठभूमि से था। जलालाबाद बम धमाका मामले में पहले ही तीन दोषियों को गिरफ़्तार किया जा चुका है और उनके पास से एक टिफिन बम, 2 पैन ड्राइव और 1 लाख 15 हज़ार रुपये नगद बरामद किए गए थे।

डीजीपी ने बताया कि जांच के दौरान यह बात सामने आई है कि उक्त दो दोषियों के पास एक टिफिन बम था, जो उन्होंने खेतों में छुपा कर रखा था। उन्होंने बताया कि दोषियों के खुलासे के बाद काउन्टर इंटेलिजेंस फ़िरोज़पुर और लुधियाना और सीआईए जगराओं की टीमों द्वारा बुधवार को फिरोजपुर के गांव अली के में एक साझा सर्च ऑपरेशन चलाया गया और टिफिन बम बरामद किया गया।

एडीजीपी (आंतरिक सुरक्षा) आर.एन. ढोके ने बताया कि मामले की जांच जारी है और जल्द ही और गिरफ़्तारियां होने की उम्मीद है। इससे पहले, पिछले कुछ महीनों में अमृतसर ग्रामीण, कपूरथला, फाजिल्का और तरनतारन से टिफिन बम बरामद हुए थे।