Tue. Sep 21st, 2021

खालिस्तानी अलगाववादी पन्नू ने पंजाब के मुख्यमंत्री को फोन कर दी धमकी


चंडीगढ़ , 2 सितम्बर ( हि.स.)। खालिस्तानी अलगाववादी सिख्स फॉर जस्टिस नेता और अमेरिका वासी गुरपतवंत सिंह पन्नू ने अब पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के कार्यालय में फोन कर उन्हें चुनौती दी है। दो दिन पहले ही पंजाब के मुख्यमंत्री को मारने दी धमकी के आरोप में पन्नू के खिलाफ स्टेट साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन एसएएस नगर में मुकदमा दर्ज हुआ था।

पत्रकारों को भेजे गए ऑडियो सन्देश में पन्नू ने कैप्टन को चुनौती देते हुए कहा है कि वर्ष 2022 के पंजाब विधानसभा चुनाव के बराबर ही खालिस्तान के लिए जनमत संग्रह होगा।

भेजे ऑडियो सन्देश में पन्नू चंडीगढ़ में मुख्यमंत्री के निवास पर फोन कर रहा है, जहाँ ऑपरेटर फोन उठाता है। बातचीत में ऑपरेटर बताता है कि मुख्यमंत्री अपने फार्म हाउस में हैं। ऑडियो सन्देश में पन्नू कहता है कि वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव में कैप्टन अमरिंदर सिंह की राजनीतिक मौत होगी। पन्नू उस ऑपरेटर को उसका सन्देश लिखने के लिए कहता है और मुख्यमंत्री को यह सन्देश देने के लिए कहता है।

एकदिन पहले ही पन्नू की धमकी पर पंजाब के मुख्यमंत्री ने कहा था कि किसी को भी पंजाब की शांति को भंग करने और हमारे लोगों को पुन: आतंकवाद के दिनों में धकेलने की अनुमति नही दी जायेगी, जिसने हजारों बेगुनाहों की जाने ली। कैप्टन ने कहा कि एस.एफ.जे. की माहौल खराब करने और विघटनकारी कार्यवाहियों का उचित जवाब दिया जायेगा। पन्नू के फोन कॉल पर मुख्यमंत्री कार्यालय की कोई टिप्पणी नहीं आई है।