Sat. Aug 8th, 2020

मैं इंदिरा गांधी की पोती हूं, किसी कार्रवाई से नहीं डरती: प्रियंका गांधी


नई दिल्ली, 26 जून (हि.स.)। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने उत्तर प्रदेश की जनता के प्रति अपने कर्तव्य को प्राथमिकता पर रखते हुए कहा है कि अगर उत्तर प्रदेश सरकार चाहे तो उन पर कार्रवाई कर ले लेकिन वह डरने वाली नहीं हैं। वह पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की पोती हैं और किसी कार्रवाई से डरती नहीं हैं। वह हमेशा सच्चाई को सामने लाने का काम करती रहेंगी।

प्रियंका गांधी ने कानपुर राजकीय बालिका गृह में कोरोना संक्रमित 57 लड़कियों के मामले में उत्तर प्रदेश राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की ओर से जारी नोटिस के जवाब में ट्वीट कर यह बात कही है। उन्होंने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा, ‘जनता के एक सेवक के रूप में मेरा कर्तव्य उत्तर प्रदेश की जनता के प्रति है और वह कर्तव्य सच्चाई को उनके सामने रखने का है। किसी सरकारी प्रोपगैंडा को आगे रखना नहीं है। उप्र सरकार अपने अन्य विभागों द्वारा मुझे फिज़ूल की धमकियां देकर अपना समय व्यर्थ कर रही है। जो भी कार्यवाही करना चाहते हैं, बेशक करें। मैं सच्चाई सामने रखती रहूंगी। मैं इंदिरा गांधी की पोती हूं, कुछ विपक्ष के नेताओं की तरह भाजपा की अघोषित प्रवक्ता नहीं हूं।’

उल्लेखनीय है कि कानपुर के राजकीय बालिका गृह में 17 से 19 जून के बीच 57 लड़कियां कोरोना संक्रमित मिली थीं। इनमें पांच गर्भवतियों में एक एचआईवी तो दूसरी लड़की हेपेटाइटिस से भी संक्रमित थी। इस प्रकरण को प्रियंका गांधी ने देवरिया व मुजफ्फरपुर कांड से जोड़कर कहा था कि इस मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए। इस बीच गुरुवार को बाल संरक्षण आयोग ने प्रियंका गांधी को नोटिस जारी किया। इसी को लेकर प्रियंका ने आज आक्रामक ट्वीट किया है।