Tue. Oct 26th, 2021

देरी से शुरू होने वाले दुबई एक्सपो 2020 में शामिल होंगे 190 से ज्यादा देश


 यूएई के राजदूत और फिक्की महासचिव ने बताया, तैयारियां जोरों पर



नई दिल्ली, 16 सितंबर (हि.स.)। इस बार ‘दुबई एक्सपो 2020’ एक साल देर से शुरू हो रहा है। कोरोना की वजह से यह मेगा इवेंट एक अक्टूबर से 31 मार्च, 2022 के बीच होगा। एक्सपो का इतिहास 170 साल पुराना है। पहली बार यह एक्सपो लंदन के आइकॉनिक क्रिस्टल पैलेस में हुआ था जिसका नाम ‘दी ग्रेट एग्जीबिशन’ रखा गया था। दुनियाभर के 191 देशों के पवेलियन यहां पर लगाए जाएंगे।

भारत में संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के राजदूत अहमद अल बन्ना और फिक्की के महासचिव दिलीप चिनॉय ने गुरुवार को एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि दुबई एक्सपो 2020 की तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं और भारत इसमें भाग लेने के लिए पूरी तरह से कमर कस रहा है। एक अक्टूबर से शुरू होने वाले इस एक्स्पो को लेकर भारत में काफी उत्साह देखा जा रहा है। एक्सपो की तैयारियों की समीक्षा करने के लिए जल्द ही केन्द्रीय वाणिज्य मंत्री दुबई का दौरा भी करने वाले हैं। इस एक्सपो को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी काफी उत्साहित हैं। 187 दिनों तक चलने वाले इस एक्सपो में भारत की सभी बड़ी कंपनियों के हिस्सा लेने की संभावना जताई जा रही है। इस एक्सपो का मुख्य फोकस स्वास्थ्य, शिक्षा, आइटी, ग्लोबल वार्मिंग, निर्माण, एनर्जी एफिशिएंसी आदि है।

अहमद अल बन्ना ने बताया कि दुबई एक्सपो को लेकर दुनियाभर में काफी उत्साह देखा जा रहा है। संयुक्त अरब अमीरात ने इस एक्सपो को लेकर काफी तैयारियां की हैं। यह एक्सपो पिछले साल कोविड-19 महामारी के कारण आयोजित नहीं किया जा सका था लेकिन इस बार इस एक्सपो को कोविड प्रोटोकॉल की तमाम पाबंदियों के बीच आयोजित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि दुनियाभर के 191 देशों के पवेलियन यहां पर लगाए जाएंगे। एक्सपो में भारत को एक बड़ा पवेलियन दिया जा रहा है। इसमें भारत सरकार के कई मंत्रालय और राज्य सरकारों के भी भाग लेने की संभावना जताई जा रही है।

उनका कहना है कि एक्सपो में आने के लिए विजिटर्स को वीजा आदि देने के लिए सरल तरीके अपनाए गए हैं। उनका कहना है कि हमें आशा है कि भारत से बड़ी संख्या में विजिटर्स दुबई एक्सपो में भाग लेने के लिए आएंगे। दुनिया भर के 46 हजार व्यापारिक संगठन और संस्थाएं इस एक्सपो में भाग लेने के लिए आ रही हैं। 18 हजार वॉलिंटियर्स को लोगों की सुविधा के लिए एक्सपो परिसर में लगाया जाएगा। भारत के गुजरात राज्य की कंपनियों को खासतौर से एक्सपो में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया गया है। उनका कहना है कि इस एक्सपो में दुनिया भर के 35 मिलियन विजिटर्स के भाग लेने की संभावना जताई जा रही है।

फिक्की के महासचिव दिलीप चिनॉय ने बताया कि इस एक्सपो को लेकर भारत में भी काफी तैयारियां की जा रही हैं। भारत सरकार के कई मंत्रालय और कई बड़ी कंपनियां जैसे रिलायंस, टाटा, अदानी, हिंदूजा ग्रुप आदि कंपनियां एक्सपो में भाग लेने के लिए तैयारियों में जुटी हुई है। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी इस एक्सपो को लेकर के काफी उत्साहित है और वह स्वयं तैयारियों का जायजा भी ले रहे हैं। विदेश मंत्री डॉ. एस जय शंकर सहित कई केंद्रीय मंत्री भी इस एक्सपो में भाग लेने के लिए जाएंगे। एक्सपो में भारत के कलाकार प्रतिदिन अपनी कला का प्रदर्शन भी करेंगे।