Sun. Oct 17th, 2021

पुलिस को अब तलाश है 81 गैंगस्टरों की


नई दिल्ली, 26 सितंबर (हि.स)। दिल्ली पुलिस को अब भी तलाश है 81 गैंगस्टरों की। रोहिणी कोर्ट में गैंगस्टर जितेंद्र उर्फ गोगी की हत्या के बाद पुलिस ने दावा किया है कि दिल्ली में 26 गैंग सक्रिय हैं। इनके 188 सदस्य हैं। पुलिस इन गैंग के 107 सक्रिय गैंगस्टरों को गिरफ्तार कर चुकी है और सभी तिहाड़ सहित अन्य जेलों में बंद हैं।

अपराध शाखा के संयुक्त आयुक्त आलोक कुमार ने बताया कि दिल्ली में बदमाशों के 26 गैंग सक्रिय हैं। जांच में पता चला है कि 26 गैंग में कुल 188 गैंगस्टर सक्रिय हैं। इन गैंग में कई गैंगस्टर पर लाखों रुपये का इनाम घोषित है। कई गैंगस्टरों पर पुलिस मकोका लगा चुकी है। उन्होंने बताया कि 26 गैंग के सक्रिय 107 सदस्यों को पुलिस अब तक गिरफ्तार कर चुकी है।

जिसमें नीरज बवानिया, काला जठेड़ी, सुनील मान उर्फ टिल्लू, लॉरेंस बिश्नोई, मंजीत महल, नवीन बाली, संदीप उर्फ ढिल्लू, हासिम बाबा, नासिर, छेनू, शक्ति नायडू, कपिल सांगवान, रोहित चौधरी सहित अन्य शामिल हैं।

संयुक्त आयुक्त ने बताया कि जिला पुलिस, अपराध शाखा और स्पेशल सेल संगठित अपराधों पर लगाम लगाने के लिए लगातार काम करती है। साथ ही मादक द्रव्य तस्करों और गैंगस्टरों के खिलाफ समय समय पर कार्रवाई की जा रही है। पुलिस कई गैंगस्टरों को गिरफ्तार कर चुकी है। इन गैंगस्टरों के सोशल मीडिया मॉनिटरिंग से पुलिस को सूचना एकत्र करनेे और उसके अनुसार आवश्यक कार्रवाई करने में मदद मिलती है। उन्होंने बताया कि रोहिणी कोर्ट में हुई हत्या के मामले में दो तीन गिरोह के शामिल होने की बात सामने आई है।

जांच में पता चला कि गोगी ने लॉरेंस बिश्नोई और काला जठेड़ी से गठबंधन किया था। किसी भी वारदात को अंजाम देने में एक दूसरे गैंग की मदद करते थे। उन्होंने बताया कि गैंग स्तर पर काम करता है। पहला गैंग चलाने वाला सरगना, दूसरी उन्हें हथियार और अन्य सामान मुहैया करने वाला और फिर तीसरा जो घटनाओं को अंजाम देता है।