Fri. Sep 17th, 2021

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की पैरालंपिक में इतिहास रचकर लौटे भारतीय दल से मुलाकात


नई दिल्ली, 9 सितंबर (हि.स.)। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को टोक्यो पैरालंपिक में इतिहास रचकर लौटे भारतीय दल से मुलाकात की। प्रधानमंत्री ने दल के प्रत्येक सदस्य के साथ व्यक्तिगत रूप से बातचीत की और उन्हें भविष्य के लिए शुभकामनाएं दीं। वहीं एथलीटों ने पीएम मोदी से अपने अनुभव को भी साझा किए।

भारतीय दल ने टोक्यो पैरालंपिक 2020 में कुल 19 पदक हासिल किए, जिसमें 5 स्वर्ण, 8 रजत और 6 कांस्य पदक शामिल हैं। जो इन खेलों में भारतीय दल का अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री ने इससे पहले टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने वाले खिलाड़ियों से मुलाकात की थी। इस दौरान प्रधानमंत्री ने पदक जीतने वाले खिलाड़ियों से संग बात भी की थी। इसका अलावा उन्होंने ओलंपिक में भाग लेने वाले खिलाड़ियों की तारीफ भी की थी।

1968 में पैरालंपिक में अपनी पहली उपस्थिति बनाने के बाद से, भारत ने 2016 के रियो संस्करण तक कुल 12 पदक जीते थे। देश ने अब अकेले टोक्यो पैरालंपिक 2020 में उस पूरी संख्या में 7 पदकों से बड़े पैमाने पर सुधार किया है। पैरालंपिक में कुल 162 देशों में से भारत पदक तालिका में 24वें स्थान पर रहा।

पैरालंपिक में पदक जीतने वाले खिलाड़ियों की सूची-

स्वर्ण पदक विजेता

अवनि लखेरा (निशानेबाजी), सुमित अंतिल (जैवलिन थ्रो), मनीष नरवाल (निशानेबाजी), प्रमोद भगत (बैडमिंटन), कृष्णा नागर (बैडमिंटन)।

रजत पदक विजेता

भाविना पटेल (टेबल टेनिस), निषाद कुमार(हाई जंप), योगेश कथुनिया (डिस्कस थ्रो), देवेंद्र झांझरिया (जैवलिन थ्रो), सिंहराज अधाना ( शूटिंग), मरियप्पन थंगावेलु (ऊंची कूद), प्रवीण कुमार (हाई जंप), सुहास यतिराज (बैडमिंटन)

कांस्य पदक विजेता

अवनि लखेरा (निशानेबाजी), सुंदर सिंह गुर्जर (जैवलिन थ्रो), मनोज सरकार (बैडमिंटन), शरद कुमार (हाई जम्प), सिंहराज अधाना (शूटिंग), हरविंदर सिंह (तीरंदाजी)।