Sun. Jan 23rd, 2022

प्रधानमंत्री ने किया ‘मुख्यमंत्री राशन आपके ग्राम योजना’ का शुभारम्भ


भोपाल, 15 नवंबर (हि.स.)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जनजातीय गौरव दिवस के मौके पर भोपाल में आयोजित जनजातीय महासम्मेलन में राज्य के 89 जनजातीय विकासखंडों में संचालित होने वाली मुख्यमंत्री राशन आपके ग्राम योजना का शुभारम्भ किया। प्रधानमंत्री ने योजना की शुरुआत करते हुए तीन हितग्राहियों को घर-घर राशन पहुंचाने वाले वाहनों की प्रतीक स्वरूप चाबी भी सौंपी। योजना में ग्राम स्तर पर जनजातीय समुदाय को उचित मूल्य पर राशन प्रदान किया जाएगा।

राज्य सरकार प्रदेश में ‘मुख्यमंत्री राशन आपके ग्राम योजना’ 89 जनजातीय विकासखंडों में प्रारंभ कर रही है। योजना में राशन वितरण वाहनों के माध्यम से ग्राम में ही राशन वितरित किया जाएगा। जनजातीय हितग्राहियों को अब उचित मूल्य राशन लेने के लिए पंचायत मुख्यालय पर नहीं जाना पड़ेगा। इससे उन्हें राशन प्राप्त करने में सुविधा होगी, साथ ही समय भी बचेगा।

योजना के संचालन के लिए प्रदेश में 485 वाहन अनुबंधित किये गये हैं। इनके माध्यम से प्रदेश के 16 जिलों के 74 जनजातीय विकासखण्डों में उचित मूल्य राशन वितरित किया जाएगा। योजना से 6 हजार 575 गांवों के 7 लाख 43 हजार परिवार लाभान्वित होंगे। प्रतिमाह लगभग 16 हजार 944 मीट्रिक टन राशन का वितरण किया जाएगा। राशन वाहनों को कस्टमाइज कर उन पर तौल कांटा, बैठक व्यवस्था, माइक, पंखा, लाइट एवं सामग्री की सुरक्षा के प्रबंध किए जाएंगे। वाहन पर महत्वपूर्ण शासकीय योजनाओं का प्रचार-प्रसार भी किया जाएगा।

अनुसूचित जनजाति के युवाओं के वाहन अनुबंधित होंगे

योजना के संचालन के लिए अनुसूचित जनजाति के युवाओं के वाहन अनुबंधित किए जाएंगे। एक टन खाद्यान्न क्षमता वाले वाहन के लिए 24 हजार रुपये तथा दो टन क्षमता वाले वाहन के लिए 31 हजार रुपये प्रतिमाह किराया प्रदान किया जाएगा। हर चार महीने में किराये की दर को पुनरीक्षित किया जा सकेगा।

राशन वाहन क्रय करने के लिए अनुसूचित जाति के युवाओं को एक टन क्षमता के वाहन के लिए दो लाख रुपये एवं एक टन से अधिक क्षमता के वाहन के लिए तीन लाख रुपये प्रति वाहन मार्जिन मनी दी जाएगी। सेन्ट्रल बैंक ऑफ इंडिया के माध्यम से हितग्राहियों को 7.40 प्रतिशत की रियायती दर पर ऋण दिलाया जाएगा।