Sun. Jan 23rd, 2022

फाइजर ने कम आय वाले 95 देशों को दी अपने एंटीवायरल कोविड की गोली बनाने की अनुमति

FILE PHOTO: A vial and syringe are seen in front of a displayed Pfizer logo in this illustration taken January 11, 2021. REUTERS/Dado Ruvic/Illustration


वांशिगटन, 17 नवंबर (हि.स.)। दुनिया के प्रसिद्ध दवा कंपनियों में से एक अमेरिका की फाइजर इंक ने मंगलवार को कहा कि वह अपने प्रायोगिक एंटीवायरल कोविड -19 गोली की जेनेरिक निर्माताओं को आपूर्ति 95 निम्न और मध्यम आय वाले देशों में करने की अनुमति देगा। कंपनी ने कहा कि यह समझौता अंतरराष्ट्रीय सार्वजनिक स्वास्थ्य समूह मेडिसिन पेटेंट पूल लाइसेंस के माध्यम से किया जाएगा।

फाइजर और एमपीपी के बीच स्वैच्छिक लाइसेंसिंग समझौता संयुक्त राष्ट्र समर्थित समूह को योग्य जेनेरिक दवा निर्माताओं को पीएफ-07321332 के संस्करण बनाने के लिए उप-लाइसेंस देने की अनुमति देगा। फाइजर द्वारा निर्मित गोलियों को पैक्सलोविड ब्रांड नाम से बाजार में बेची जाएगी।

मेडिसिन पेटेंट पूल के कार्यकारी निदेशक चार्ल्स गोर ने अपने बयान में कहा कि लोगों को कोविड -19 के कहर से बचाने के लिए हम एक और जीवन रक्षक दवा पाकर बेहद खुश हैं।

फाइजर कम आय वाले देशों में बिक्री पर रॉयल्टी माफ करेगा। कंपनी ने अपने बयान में कहा कि जब तक कोविड -19 को विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल के रूप में अंतरराष्ट्रीय चिंता को वर्गीकृत किया जाता है, तब तक समझौते में शामिल अन्य देशों के लिए भी इसे माफ किया जाएगा।

फाइजर के मुख्य कार्यकारी अल्बर्ट बौर्ला ने आगे कहा कि हमारा मानना है कि मुंह से लिए जाने वाले एंटीवायरल उपचार से कोविड -19 संक्रमण की गंभीरता को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।