Tue. Sep 22nd, 2020

दफ्तर में घुसकर प्रॉपर्टी डीलर की गोली मारकर हत्या, तीन की हालत गंभीर


पटना, 23 अगस्त (हि.स.)। राजधानी पटना में रविवार की सुबह  अचानक गोलियों की तड़तड़ाहट से बेउर मोड़ के नजदीक का पूरा क्षेत्र दहल उठा। यहां पर अपराधियों ने प्रॉपर्टी डीलर के कार्यालय में घुसकर अंधाधुंध फायरिंगकी  जिससे परसा निवासी प्रॉपर्टी डीलर राजेश कुमार की इलाज के दौरान मौत हो गई जबकि तीन लोग जख्मी हो गए हैं। पुलिस के अनुसार आधा दर्जन से ज्यादा बाइक सवार अपराधियों ने इस घटना को अंजाम दिया है। घटना के बाद पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई है।
दफ्तर में घुसते ही अपराधियों ने की ताबड़तोड़ फायरिंग
पुलिस के अनुसार रविवार की सुबह करीब साढ़े ग्यारह बजे दो बाइक पर सवार 6 अपराधी बेऊर मोड़ स्थिति प्रॉपर्टी डीलर के दफ्तर पहुंचे। दफ्तर के अंदर घुसते ही अपराधियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। गोली लगने से चार लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए। चारों को पीएमसीएच में भर्ती कराया गया जहाँ  प्रॉपर्टी डीलर राजेश ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। राजेश को 8-10 गोलियां लगी थीं । इस घटना में धर्मेंद्र कुमार, लाल बाबू और रंजीत कुमार कातिब गंभीर रूप से जख्मी हो गए हैं । घायलों को आनन-फानन में पीएमसीएच में भर्ती कराया गया है। गोलीबारी  करने के बाद अपराधी कार्बाइन लहराते हुए मौके से फरार हो गए।
कार्बाइन का इस्तेमाल किया गया
बेऊर के थानेदार फूलदेव चौधरी के मुताबिक घटना  में कार्बाइन का इस्तेमाल किया गया है। अपराधियों ने 6 राउंड फायरिंग की है। घटनास्थल से कई खोखे बरामद किए गए हैं। शुरुआती जांच के मुताबिक जमीन विवाद में अपराधियों ने गोलीबारी की  है। अब तक अपराधियों के बारे में कुछ पता नहीं चल सका है। घायलों के होश में आते ही पूछताछ की जाएगी। पुलिस इलाके में लगे सीसीटीवी फुटेज खंगालने में भी जुटी है।
50 राउंड की गई फायरिंग
इधर, प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि अपराधियों ने 50 राउंड के आस पास गोली चलाई है। अपराधियों की गोलियों की आवाज से पूरे क्षेत्र में भगदड़ मच गई थी। अपनी जान बचाने के लिए  लोग इधर उधर भागने लगे थे। आस पास के लोगों ने इसकी तत्काल सूचना पुलिस को दी लेकिन, जब तक पुलिस घटनास्थल पर पहुंचती इससे पहले ही अपराधी वहां से फरार हो गए।
जांच में जुटी पुलिस
सूत्रों के अनुसार भूमि विवाद में गोलीबारी हुई है।  मौके पर पहुंची पुलिस ने 15 खोखे बरामद किए हैं। एक पल्‍सर बाइक भी जब्‍त की गई है। पुलिस घटना स्थल पर पहुँच जांच में जुटी है। सीसीटीवी कैमरे  खंगाले  जा रहे  हैं ।
टुनटुन गोप की हत्या के लिए आए थे अपराधी
पुलिस सूत्रों की मानें तो अपराधियों के निशाने पर टुनटुन गोप था. लेकिन, गोली उसकी जगह बैठे राजेश को लग गई है. टुनटुन गोप बच गया। पुलिस सूत्रों के अनुसार ये मामला पुरानी अदावत से जुड़ा है। टुनटुन गोप का नाम साल 2018 में पटना के गर्दनीबाग में  दीना गोप की हत्या में भी था। संभावना जताई जा रही है कि आज की वारदात बदले का नतीजा है। टुनटुन ने जमीन विवाद के कारण दीना गोप की हत्या कर दी  थी । फिलहाल पटना पुलिस की टीम इस पूरे मामले की जांच कर रही है। जांच के बाद ही असलियत सामने आएगी।