Sun. Sep 20th, 2020

32 कट्ठा जमीन को लेकर हुई थी प्रॉपर्टी डीलर की हत्या


पटना, 24 अगस्त (हि.स). प्रॉपर्टी डीलर के दफ्तर में घुसकर रविवार को हुई हत्या मामले में 24 घंटे बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं। प्रोपर्टी डीलर टुनटुन गोप की ओर से सोमवार को बेऊर थाने में चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है जिसमें फुलवारी शरीफ के करोड़ी चक का कुख्यात दीना गोप, उसके साढू आकाश कुमार, पार्टनर संजय कुमार और एक और स्टाफ  को नामजद बनाया है। इधर, पुलिस की टीम लगातार आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए निरंतर छापेमारी कर रही है। पुलिस उसके एक-एक ठिकाने को खंगाल रही है।

 

दिन दहाड़े राजधानी पटना में कारबाइन से हमले  को पटना पुलिस ने गंभीरता से लिया है। यही कारण है कि पटना के रेंज आईजी संजय सिंह खुद पूरे मामले की निगरानी कर रहे हैं। उन्होंने सिटी एसपी वेस्ट अशोक मिश्रा की अगुवाई में एक एसआईटी का गठन किया है। एसआईटी सीधे आईजी को रिपोर्ट कर रही है। हालांकि अभी तक इस मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

 

32 कट्ठा  जमीन है घटना का कारण

दरअसल इस घटना का कारण पटना में एक 32 कट्ठे की जमीन बताई जा रही है। इस जमीन की कीमत 30 करोड़ रुपये है। इसी जमीन के लिए पहले भी राजधानी में एके-47 से पूर्व डिप्टी मेयर अमरावती देवी के पति और पूर्व वार्ड पार्षद  की हत्या 2018 में  गर्दनीबाग थाना क्षेत्र के अनिसाबाद स्थित सूर्य मंदिर के पास हुई थी। इस घटना में उसके साथ तीन अन्य लोगों को गोली लगी थी। रविवार को फिर इस जमीन के लिए खूनी खेल शुरु  हो गया है।

 

दो कारबाइन लेकर आये थे अपराधी

इस वारदात के बाद पुलिस को जो सीसीटीवी फुटेज मिले हैं उससे साफ है कि अपराधी पूरी तैयारी के साथ आये थे।फुटेज देखकर साफ पता चल रहा है कि अपराधी शार्प शूटर थे ।उनकी संख्या छः थी और  सभी तीन बाइक पर सवार होकर  आए थे। ऑफिस के अंदर  5 लोग गए थे। इनमें से 2 के हाथों में कारबाइन थी  जिसे वो पिट्ठू बैग में लेकर आये थे। बाकी अपराधियों के हाथ में पिस्टल थी ।