Mon. Nov 29th, 2021

पठानकोट सेन्य छावनी पर ग्रेनेड हमले के बाद जम्मू कश्मीर और पंजाब की सीमाओं पर चौकसी बढ़ाई


कठुआ 22 नवंबर (हि.स.)। पठानकोट छावनी पर ग्रेनेड हमले के बाद जम्मू कश्मीर के प्रवेश द्वार और जम्मू कश्मीर की सीमा से लगती विभिन्न पंजाब की सीमाओं पर चौकसी बढ़ा दी गई। पठानकोट सैनिक छावनी पर ग्रेनेड हमले के बाद जम्मू कश्मीर के साथ लगती पंजाब की सीमाओं पर जम्मू कश्मीर पुलिस द्वारा सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए। जिसके बाद पंजाब के माधोपुर और जम्मू कश्मीर के लखनपुर में आने जाने वाली गाड़ियों की गहन जांच की जा रही है।

गौरतलब हो जम्मू कश्मीर और पाकिस्तान की सीमा के करीब पंजाब के जिला पठानकोट में स्थित सेन्य छावनी के त्रिवेणी द्वार के समीप ग्रेनेड विस्फोट हुआ। इस विस्फोट को लेकर इलाके में दहशत का माहौल बन गया। घटना के बाद पंजाब पुलिस ने पूरे क्षेत्र को घेर लिया और जांच शुरू कर दी। वहीं पंजाब के विभिन्न क्षेत्रों में रेड अलर्ट जारी किया गया। हालांकि इस हमले में किसी भी जानमाल को नुकसान नहीं हुआ है। एसएसपी पठानकोट के अनुसार दो मोटरसाइकिल सवारों ने इस घटना को अंजाम दिया जिसकी पुष्टि के लिए पंजाब पुलिस सेन्य छावनी के द्वार पर लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है। वहीं दूसरी और पंजाब पुलिस और जम्मू कश्मीर पुलिस द्वारा पाकिस्तान की सीमा के पास सभी क्षेत्रों में सर्च अभियान शुरू कर दिया। जिसके बाद पंजाब से जम्मू कश्मीर की ओर आने वाली सभी गाड़ियों की गहन जांच की जा रही है वहीं दूसरी और जम्मू कश्मीर से पंजाब की ओर जाने वाली गाड़ियों की भी जांच पंजाब पुलिस द्वारा की जा रही है।

फिलहाल अभी तक हमला करने वाले बालों के बारे में कोई भी जानकारी नहीं मिली है। गौरतलब हो कि 2016 में भी पठानकोट एयरबेस पर आंतकी हमला हुआ था जिसमें 2 सेना के जवान और चार अंतकियों को ढेर कर दिया था। जिसमें जम्मू कश्मीर की विशेष एसओजी की टीम ने अपनी बहादुरी का दमखल दिखाया था। वहीं दूसरी ओर 2015 में भी पंजाब के दीनानगर में भी अंतकवादियों द्वारा हमला किया गया था जिस में भी पंजाब पुलिस के जवान शहीद हुए थे।