Tue. Sep 21st, 2021

पाकिस्तान के साथ-साथ चीन ने भी खुले तौर पर किया तालिबान का समर्थन


 आईएसआई चीफ ने अन्य खुफिया प्रमुखों के साथ की तालिबानी सरकार पर चर्चा

 अफगानिस्तान की अर्थव्यवस्था को नियंत्रित करने का प्रयास कर रहा है पाकिस्तान



नई दिल्ली, 12 सितंबर (हि. स.)। पाकिस्तान के आईएसआई प्रमुख फैज हमीद ने शनिवार को रूस, चीन, ईरान और ताजिकिस्तान के खुफिया प्रमुखों के साथ बैठक की है। इस दौरान अफगानिस्तान में तालिबान की सरकार बनने के बाद दुनिया के बदलते हालात पर चर्चा की गई। बैठक में पाकिस्तान के साथ-साथ चीन ने भी खुले तौर पर तालिबान का समर्थन किया है।

सूत्रों के मुताबिक फैज हमीद ने इन देशों के खुफिया प्रतिनिधियों को बताया कि अफगानिस्तान की नई सरकार बनने में किन संगठनों और देशों की क्या भूमिका रही है। हमीद इससे पहले सरकार गठन को लेकर काबुल भी गए थे। दरअसल तालिबान के सत्ता में आने के बाद पाकिस्तान अफगानिस्तान की अर्थव्यवस्था को नियंत्रित करने का प्रयास कर रहा है।

इससे पहले पाकिस्तान ने गुरुवार को अफगानिस्तान के लिए आर्थिक योजनाओं की घोषणा की और तालिबान के साथ पाकिस्तानी रुपये में द्विपक्षीय व्यापार करने का फैसला किया है। तालिबानी सरकार बनने से पहले पाकिस्तान का अफगानिस्तान के साथ द्विपक्षीय व्यापार अमेरिकी डॉलर में था और अफगान मुद्रा ज्यादा मजबूत थी। इस कदम से पाकिस्तान की मुद्रा का अफगान व्यापारियों और व्यापारिक समुदाय पर कब्जा हो जाएगा।