Tue. Oct 26th, 2021

बाइडन के फोन नहीं करने से इमरान खान हैं आहत


इस्लामाबाद, 17 सितंबर (हि.स.)। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन से अभी तक बात नहीं करने की वजह से आहत हैं। उनका यह दर्द एक विदेशी टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में छलका है।

इमरान ने अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडन के फोन नहीं करने के सवाल पर कहा कि वह बेहद व्यस्त इंसान हैं। वह इतने व्यस्त हैं कि फोन नहीं कर पाते।

एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इमरान ने कहा है कि अफगानिस्तान में 20 वर्ष चले युद्ध के दौरान अमेरिका ने पाकिस्तान को किराए की बंदूक की तरह इस्तेमाल किया था। आतंकवाद के खिलाफ अफगानिस्तान में अमेरिका का युद्ध पाकिस्तान के लिए विनाशकारी था।

वहीं, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान अफगानिस्तान की तालिबान सरकार को मान्यता दिलाने के समर्थन में खुलकर उतर आए हैं। उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय को इस नई सरकार के साथ संपर्क बनाना चाहिए। इसके साथ बात करनी चाहिए। इमरान ने बुधवार को कहा कि अफगानिस्तान में शांति और स्थिरता की दिशा में तालिबान के साथ बातचीत सबसे अच्छा तरीका है। उन्होंने यह भी कहा कि विश्व समुदाय को तालिबान को वक्त देना चाहिए, जिससे वे विधि संगत सरकार बनाने के साथ अपने वादों की दिशा में प्रगति साबित कर सकें।

बतादें कि तालिबान ने तकरीबन पूरे अफगानिस्तान पर नियंत्रण के बाद गत 15 अगस्त को राजधानी काबुल पर भी कब्जा कर लिया था। इसके बाद इस महीने की शुरुआत में अंतरिम सरकार का ऐलान किया गया, लेकिन जिन लोगों को सरकार में शामिल किया गया है, उनमें से 14 तालिबान सदस्य संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की ओर से आतंकी घोषित हैं।