Fri. Jul 30th, 2021

चीन ने पाकिस्तान से कहा, आतंकियों को नहीं मार सकते तो हमारे सैनिक व मिसाइलें तैयार


बीजिंग, 17 जुलाई (हि.स.)। पाकिस्तान में चीनी नागरिकों के मारे जाने के बाद से ड्रैगन बेहद आहत दिख रहा है। आतंकी हमले में मारे गए अपने नागरिकों को लेकर चीन ने साफ कहा है कि अगर आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई तो उसके सैनिक व मिसाइल दोषियों को सजा देने के लिए तैयार हैं। इससे पहले चीन आतंकवाद पर पाकिस्तान का हर स्तर पर बचाव करता आया है। यूएन में मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित कराने के भारतीय प्रयासों में उसने कई बार रोड़े अटकाए थे।

चीन सरकार के मुखपत्र ग्लोबल टाइम्स के संपादक ने ट्वीट कर कहा कि इस आतंकी हमले में शामिल कायर लोग अबतक सामने नहीं आए हैं। लेकिन उन्हें तलाश कर खत्म कर दिया जाना चाहिए। यदि पाकिस्तान की क्षमता पर्याप्त नहीं है, उसकी मंजूरी से चीन की मिसाइलों और स्पेशल फोर्स को काम पर लगाया जा सकता है।

यह बयान ऐसे समय पर सामने आया है जब बीजिंग ने कहा है कि पाकिस्तान के उत्तर पश्चिमी इलाके में एक बस में हुए विस्फोट ने उसके 9 कर्मचारियों की जान ले ली। हालांकि, इस्लामाबाद ने घटना को गैस लीक का नतीजा बताया था। इस संबंध में पाकिस्तान की तरफ से की गयी जांच पर अविश्वास जाहिर करते हुए चीन ने कहा था कि वह भी अपनी जांच टीम भेजेगा।

इस बीच प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को अपने चीनी समकक्ष ली कचियांग को आश्वासन दिया कि घटना की जांच में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ा जाएगा।

निर्माणाधीन दासू बांध स्थल तक चीन के इंजीनियर और कामगारों को लेकर जा रही बस में विस्फोट होने से 9 चीनी नागरिकों और फ्रंटियर कोर के दो सैनिकों सहित कम से कम 13 लोगों की मौत हो गई और 39 अन्य व्यक्ति घायल हो गए।