Tue. Oct 26th, 2021

बच्चों की वैक्सीन नोवावैक्स के ट्रायल के लिए एसआईआई को मिली मंजूरी


नई दिल्ली, 28 सितंबर (हि.स.)। केन्द्र सरकार ने वैक्सीन बनाने वाली कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया( एसआईआई) को 7-11 साल के बच्चों में वैक्सीन परीक्षण की अनुमति दे दी है। इन बच्चों पर अमेरिका की वैक्सीन निर्माता कंपनी नोवावैक्स की कोरोना वैक्सीन का ट्रायल किया जाएगा।

केन्द्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन के एक विषय विशेषज्ञ पैनल ने विस्तृत विचार-विमर्श के बाद समिति ने प्रोटोकॉल के अनुसार 7 से 11 साल के बच्चों पर ट्रायल की शिफारिश की। बता दें कि सीरम कोविशील्ड के अलावा कोवावैक्स नाम से भी एक वैक्सीन बना रही है। पिछले महीने सीरम के सीईओ अदार पूनावाला ने कहा था कि उन्हें उम्मीद है कि कोवावैक्स को इस साल अक्टूबर में युवाओं के लिए और अगले साल की पहली तिमाही में बच्चों के लिए लॉन्च कर दिया जाएगा। सीरम से पहले भारत की दो वैक्सीन निर्माता कंपनियां बच्चों पर कोरोना की वैक्सीन का ट्रायल शुरू कर चुकी हैं। इनमें भारत बायोटेक और जायडस कैडिला शामिल है। सीरम ने 12-17 साल के बच्चों पर कोवैक्स का ट्रायल पहले ही शुरू कर दिया है और इसके बेहतर परिणाम भी सामने आए हैं।