Sat. Dec 4th, 2021

कीवी बल्लेबाजों को यहां की परिस्थितियों के अनुसार जल्दी से ढलना होगा : गैरी स्टीड


कानपुर, 23 नवंबर (हि.स.)। न्यूजीलैंड के कोच गैरी स्टीड का मानना है कि अगर कीवी बल्लेबाजों को आगामी टेस्ट श्रृंखला में भारतीय स्पिन आक्रमण की चुनौती से पार पाना है तो उन्हें यहां की परिस्थितियों के अनुसार जल्दी से ढलना होगा।

भारत और न्यूजीलैंड गुरुवार से शुरू हो रही दो मैचों की टेस्ट श्रृंखला में आमने-सामने होंगे।

स्टीड ने एक आभासी प्रेस कांफ्रेंस में कहा, “मुझे लगता है कि जब भी आप यहां आते हैं और अश्विन, जडेजा, अक्षर पटेल का सामना करते हैं, जो इस माहौल में भी विश्व स्तरीय स्पिनर हैं, तो आपको जल्दी से यहां की परिस्थितियों और पिच के अनुकूल होना होता है और हमारे बल्लेबाजों को यह जल्द से जल्द करना होगा।”

उन्होंने कहा, “कभी-कभी जब आप मैच शुरू करते हैं, तो यह बहुत ज्यादा स्पिन नहीं करता है, लेकिन यह बाद में आता है। इसलिए गेंदबाजों को वापस चुनौती देने के लिए कई विचार या तरीके होना कुछ ऐसा होगा जो हमारे समूह के लिए महत्वपूर्ण होगा।”

तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट और कॉलिन डी ग्रैंडहोम बायो-सिक्योर बबल थकान के कारण टेस्ट श्रृंखला में हिस्सा नहीं लेंगे।

न्यूजीलैंड के कोच ने कहा कि बायो-बबल में काफी समय बिताने के बाद बोल्ट “मानसिक रूप से तरोताजा” होना चाहते थे।

उन्होंने कहा, “ट्रेंट बोल्ट लंबे समय तक न्यूजीलैंड के लिए एक अच्छे गेंदबाज रहे है, लेकिन हमने फैसला किया कि मानसिक रूप से तरोताजा होने के लिए उसके लिए सबसे अच्छी बात घर पहुंचना था। मुझे यह भी पता है कि भारत भी ऐसा ही कर रहा है।”

स्टीड ने यह भी बताया कि गुरुवार से शुरू हो रहे पहले टेस्ट के लिए न्यूजीलैंड के सभी खिलाड़ी चयन के लिए उपलब्ध हैं।