Sun. Dec 5th, 2021

नवाब मलिक का अंडरवर्ल्ड कनेक्शन, मुंबई बम विस्फोट के आरोपितों से खरीदी जमीनः फडणवीस


शरद पवार व संबंधित विभाग को देंगे जानकारी, करेंगे जांच की मांग

मंत्री नवाब मलिक ने कहा- फडणवीस के आरोप झूठे, हम जांच के लिए तैयार



मुंबई, 9 नवंबर (हि.स.)। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने महाराष्ट्र के अल्पसंख्यक मंत्री नवाब मलिक पर मुंबई में 1993 में हुए बम विस्फोट के आरोपित से कुर्ला में वेशकीमती तीन एकड़ जमीन कौड़ियों को भाव पर खरीदने का आरोप लगाया है। देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि इस मामले की शिकायत वह संबंधित विभाग में तथा राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष के पास भेजेंगे।

फडणवीस ने कहा कि सरदार शाहवली खान मुंबई में हुए सिलसिलेवार बम विस्फोट के आरोपित के रूप में आजीवन कारावास की सजा काट रहा है । इसी मामले में फरार आरोपित दाऊद इब्राहिम की बहन हसीना पारकर के ड्राइवर सलीम पटेल को टाडा के तहत गिरफ्तार किया गया था। मंत्री नवाब मलिक के परिवार की सालिडर्स इंवेस्टमेंट कंपनी ने इन दोनों से कुर्ला स्थित एलबीएस मार्ग पर स्थित तीन एकड़ जमीन सिर्फ 30 लाख रुपये में 2005 में खरीदी थी जबकि इस जमीन की वास्तविक कीमत तीन करोड़ रुपये थी। नवाब मलिक ने सिर्फ इस सौदे में 20 लाख रुपये ही दिए हैं। मंत्री नवाब मलिक इस कंपनी के संचालक रह चुके हैं और सौदा नवाब मलिक के भाई फराज मलिक के साथ किया गया है। इसी तरह की पांच सम्पत्तियां नवाब मलिक की कंपनी ने अंडरवर्ल्ड के लोगों से खरीदी हैं।

देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि बम विस्फोट के आरोपित और टाडा के आरोपित की संपत्ति आम तौर पर सरकार जब्त करती है लेकिन इस जमीन खरीद का सौदा अंडरवर्ल्ड को लाभ पहुंचाने के लिए मंत्री नवाब मलिक के परिवार की कंपनी ने किया था। इस मामले की जानकारी वे संबंधित विभाग में देकर जांच की मांग करने वाले हैं। साथ ही मामले की सारी जानकारी वे राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार को भी देंगे, जिससे उन्हें पता चल सके कि उनके मंत्री किस तरह के कारनामों में लिप्त हैं। देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि उनकी नवाब मलिक से कोई निजी दुश्मनी नहीं है लेकिन जिन लोगों ने मुंबई में बम विस्फोट कर मुंबई वासियों का खून बहाया, उन्हें लाभ पहुंचाया जाना मुंबई ही नहीं, देश की जनता की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ करने जैसा ही है।