Sun. Dec 5th, 2021

चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’ का मुकाबला करने को नौसेना के जहाज तैयार


अगले 12 घंटों में उत्तरी आंध्र प्रदेश और दक्षिण ओडिशा तट के मध्य पहुंचने की उम्मीद

 दोनों राज्य प्रशासनों को जरूरत पड़ने पर सहायता पहुंचाने के लिए स्टैंडबाय में जहाज तैनात

 ओडिशा में 3409 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर और 204 लोगों को शेल्टर होम भेजा गया



नई दिल्ली, 26 सितम्बर (हि.स.)। बंगाल की खाड़ी में उत्पन्न हुए हवा के कम दबा के चलते चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’ अगले 12 घंटों में उत्तरी आंध्र प्रदेश और दक्षिण ओडिशा तट के मध्य पहुंचने की उम्मीद है। ऐसे में भारतीय नौसेना इस चक्रवाती तूफान की हर स्थिति पर नजर रखे हुए है। मुख्यालय पूर्वी नौसेना कमान और ओडिशा क्षेत्र के प्रभारी नौसेना अधिकारियों ने चक्रवात के असर से निपटने के लिए अपनी तैयारियां पूरी कर ली हैं और जरूरत पड़ने पर सहायता देने के लिए राज्य प्रशासनों के साथ निरंतर संपर्क में है। ओडिशा में अब तक 3409 लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थानों पर और 204 लोगों को शेल्टर होम भेजा गया है।

नौसेना प्रवक्ता विवेक मधवाल के अनुसार चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’ का मुकाबला करने की तैयारियों के हिस्से के रूप में ओडिशा में बाढ़ राहत दल और गोताखोरी दल तैनात किये गए हैं। तत्काल सहायता प्रदान करने के लिए विशाखापत्तनम में भी नौसेना की टीम पूरी तरह से मुस्तैद है। संभावित सर्वाधिक प्रभावित होने वाले क्षेत्रों में लाेगों के लिए मानवीय सहायता और आपदा राहत (एचएडीआर) सामग्री तथा चिकित्सा टीमों के साथ नौसेना के दो जहाज समुद्र में मौजूद हैं। सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण करने, हताहतों को निकालने और राहत सामग्री पहुंचाने के लिए नौसेना के विमानों को नौसेना वायु स्टेशनों, विशाखापत्तनम में आईएनएस देगा और चेन्नई के पास आईएनएस राजाली को तैयार रखा गया है।