Wed. Sep 22nd, 2021

राष्ट्रीय शिविर के जरिए अपने कौशल को और बेहतर करने की कोशिश करुंगी : दीपा करमाकर


अगरतला, 7 सितंबर (हि.स.)। भारतीय जिमनास्ट दीपा करमाकर ने आठ सितंबर से शुरू हो रहे राष्ट्रीय शिविर की सराहना करते हुए कहा कि वह शिविर के जरिए अपने कौशल को और बेहतर करने की कोशिश करेंगी।

बता दें कि त्रिपुरा के इतिहास में पहली बार राज्य की चार महिला जिम्नास्ट दिल्ली में वरिष्ठ राष्ट्रीय शिविर में भाग लेने जा रही हैं। शिविर से जापान के किताक्यूशु में होने वाली 2021 वर्ल्ड आर्टिस्टिक जिम्नास्टिक चैंपियनशिप और साउथ एशिया चैंपियनशिप के लिए टीम का चयन होगा।

दीपा ने यहां संवाददाताओं से कहा,”लंबे समय के बाद, हमारा राष्ट्रीय शिविर 8 सितंबर से शुरू होने जा रहा है और 17 अक्टूबर तक चलेगा। इस बीच, विश्व चैंपियनशिप और दक्षिण एशियाई चैंपियनशिप के लिए ट्रायल होंगे। लंबे समय के बाद, हमें एक शिविर का अनुभव होगा। हम 16 सदस्य हैं और उनमें से 4 त्रिपुरा से हैं हम सभी बिश्वेश्वर नंदी सर के अधीन प्रशिक्षण लेते हैं, मुझे बहुत अच्छा लग रहा है, मैं बस अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन देना चाहता हूं और मैं सभी से हमारे लिए प्रार्थना करने का आग्रह करती हूं।”

सोमवार को त्रिपुरा के सीएम बिप्लब कुमार देब ने सभी चार चयनित जिमनास्टों को सम्मानित किया, जिसमें ओलंपियन जिमनास्ट दीपा और उनकी जूनियर्स अश्मिता पॉल, प्रियंका दासगुप्ता, प्रतिष्ठा सामंत शामिल थीं। ये सभी कोच बिस्वेशर नंदी के नेतृत्व में कोचिंग ले रही हैं।

देब ने जिमनास्टों को अपनी शुभकामनाएं दीं और राज्य के अन्य तीन जिमनास्टों को प्रेरित करने के लिए दीपा और उनके गुरु की सराहना की।

उन्होंने कहा कि पहले दीपा के लिए यहां ट्रेनिंग लेने की ज्यादा सुविधा नहीं थी और इसलिए उन्हें अपने कोच के साथ दिल्ली जाना पड़ता था, लेकिन टाटा के साथ वर्तमान सरकार ने राज्य में उनके प्रशिक्षण के लिए सभी इंतजाम किए हैं और परिणाम दिख रहे हैं।