Sun. Jan 23rd, 2022

म्यांमार की सेना ने सूकी पर लगाए धोखाधड़ी के आरोप

Demonstrators protest against the military coup and demand the release of elected leader Aung San Suu Kyi, in Yangon, Myanmar, February 6, 2021. REUTERS/Stringer


नैपीटॉ, 16 नवंबर (हि.स.)। म्यांमार की सेना ने आंग सान सूकी पर धोखाधड़ी के आरोप लगाए गए हैं। आरोपों के अनुसार, सुकी ने साल 2020 के चुनावों में धोखाधड़ी की है।

म्यांमार में सैन्य तख्तापलट होने के बाद लगातार विरोध प्रदर्शन हो रहे थे। स्थानीय अखबार की रिपोर्ट के अनुसार सूकी पर चुनाव में धोखाधड़ी करने और गैरकानूनी कार्रवाइयां करने के आरोप लगाए हैं।

सूकी के अलावा, पूर्व राष्ट्रपति विन मिंट और चुनाव आयोग के अध्यक्ष समेत पंद्रह अन्य अधिकारियों पर भी इसी तरह के आरोप लगाए गए हैं। सूकी पर पहले से ही चुनाव प्रचार के दौरान कोरोना नियमों का उल्लंघन करने के लिए मुकदमा चल रहा है। हालांकि, अतरराष्ट्रीय ऑब्जरवर्स का कहना है कि 2020 के चुनाव काफी हद तक निष्पक्ष और स्वतंत्र थे। वहीं, जुंटा (सेना) ने एनएलडी को भंग करने की धमकी दी है। बता दें कि पिछले महीने सूकी के करीबी और उच्च पदस्थ नेता विन हेटिन को भी देशद्रोह के आरोप में 20 साल की जेल सुनाई गई थी।

एक स्थानीय निगरानी समूह के अनुसार, तख्तापलट के बाद से म्यांमार के सुरक्षा बलों ने 1,250 से अधिक लोगों को मौत के घाट उतार दिया है, जबकि 10 हजार से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया गया है।