Sat. Oct 31st, 2020

सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम मंत्रालय से संबद्ध नहीं है एमएसएमई निर्यात संवर्धन परिषद


नई दिल्ली, 17 अक्टूबर (हि.स.)। सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय (एमएसएमई) ने मीडिया में आई खबरों को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि उसका एमएसएमई निर्यात संवर्धन परिषद से कोई लेना-देना नहीं है।

एमएसएमई मंत्रालय ने शनिवार को एक प्रेसनोट जारी कर कहा कि यह पाया गया है कि एमएसएमई निर्यात संवर्धन परिषद द्वारा ‘निदेशक’ के पद के लिए नियुक्ति पत्र जारी करने के संबंध में कुछ संदेश मीडिया और सोशल मीडिया में प्रसारित किए जा रहे हैं। यह भी पाया गया है कि यह संगठन एमएसएमई मंत्रालय के नाम का उपयोग कर रहा है।

यह स्पष्ट किया जाता है कि भारत सरकार का एमएसएमई मंत्रालय किसी भी तरह से एमएसएमई निर्यात संवर्धन परिषद से संबद्ध नहीं है। इसके साथ एमएसएमई मंत्रालय ने इस परिषद से संबंधित किसी भी पद पर नियुक्ति या किसी भी पोस्टिंग को अधिकृत नहीं किया है। आम जनता को इस बारे में सूचित किया जाता है और इसके साथ इस तरह के संदेशों या ऐसे गलत तत्वों के बहकावे में न आने की सलाह दी जाती है।