Tue. Sep 22nd, 2020

पीएमजकेपी से हुई 42 करोड़ लोगों को 68,820 करोड़ रुपये की मदद


नई दिल्‍ली, 08 सितम्‍बर (हि.स.)। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज (पीएमजीकेपी) के तहत अब तक 42 करोड़ से ज्‍यादा गरीब लोगों को 68,820 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता दी जा चुकी है।

वित्‍त मंत्रालय ने मंगलवार को जारी बयान में बताया कि पीएम-किसान सम्‍मान निधि की पहली किश्त के तौर पर 17,891 करोड़ रुपये जारी किए गए, जिससे 8.94 करोड़ किसानों को फायदा हुआ। इसी तरह 10,325 करोड़ रुपये की पहली किश्त 20.65 करोड़ महिलाओं के जनधन खातों में डाले गए। दूसरी किश्त के तौर पर 10,315 करोड़ रुपये और तीसरी किश्त के रूप में 10,312 करोड़ रुपये महिलाओं के जनधन खातों में जमा कराए गए।
मंत्रालय ने बताया कि 2.81 करोड़ बुजुर्गों, विधवाओं और दिव्यागों के खातों में दो किश्त ों में 2,814.5 करोड़ रुपये डाले गए। इसी तरह पीएमजीकेपी के तहत 1.82 करोड़ कंस्ट्रक्शन मजदूरों को 4,997.18 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता दी गई। वहीं, ईपीएफओ में 24 फीसदी अंशदान के तहत .43 करोड़ कामगारों को 2476 करोड़ रुपये का फायदा मिला।
इसके अलावा प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना में तीन किश्त ों में कुल 9700 करोड़ रुपये गरीबों को दिए गए। इस तरह इन योजनाओं से कुल 42.08 करोड़ गरीबों को 68820 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता दी गई। गौरतलब है कि कोविड-19 की महामारी के दौरान आत्‍मनिर्भर भारत अभियान के तहत राहत पैकेज का ऐलान किया था। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज भी उसी पैकेज का हिस्‍सा है।