Sat. Jul 31st, 2021

मॉडर्ना के लिए करना पड़ सकता है इंतजार, हानि से सुरक्षा की शर्त पर अटका है मामला


नई दिल्ली, 13 जुलाई(हि.स.)। देश में मॉडर्ना वैक्सीन की बाट जोह रहे लोगों को अभी और इंतजार करना पड़ सकता है। इस वैक्सीन को ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) द्वारा पिछले महीने ही देश में आपातकालीन उपयोग के लिए हरी झंडी मिल चुकी है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक कंपनी हानि से सुरक्षा देने की मांग पर अड़ी हुई है। मंगलवार को नीति आयोग के सदस्य डॉ. वी के पॉल ने बताया कि मॉडर्ना कंपनी से बातचीत चल रही है। कंपनी को कई बार बुलाया जा रहा है लेकिन उनकी तरफ से गंभीरता नहीं दिखाई दे रही है। हालांकि बातचीत का दौर जारी है। उम्मीद है कि जल्दी ही बातों का कुछ नतीजा निकलेगा।

बताते चलें कि देश में दो स्वदेशी कोविशील्ड, कोवैक्सिन और रूस की स्पुतनिक-वी वैक्सीन को प्रयोग में लाया जा रहा है। हाल ही में, डीसीजीआई ने मुंबई स्थित दवा कंपनी सिप्ला को देश में आपातकालीन उपयोग के लिए मॉडर्ना की वैक्सीन को आयात करने की अनुमति दी थी।