Sun. Dec 5th, 2021

महिंद्रा एंड महिंद्रा का मुनाफा आठ गुणा बढ़कर 1,432 करोड़ रुपये


दूसरी तिमाही में महिंद्रा एंड महिंद्रा का मुनाफा 1,432 करोड़ रुपये



नई दिल्ली, 09 नवम्बर (हि.स.)। सेमीकंडक्टर की कमी से उत्पादन प्रभावित होने के बावजूद घरेलू वाहन कंपनी महिंद्रा एंड महिंद्रा (एमएंडएम) का एकल शुद्ध लाभ दूसरी तिमाही में आठ गुना बढ़कर 1,432 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। पिछले वित्त वर्ष की जुलाई-सितंबर अवधि में कंपनी ने 162 करोड़ रुपये का एकल शुद्ध लाभ दर्ज किया था। कंपनी ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

एमएंडएम ने शेयर बाजार को दी सूचना में बताया कि दूसरी तिमाही में उसकी आय 15 फीसदी बढ़कर 13,305 करोड़ रुपये हो गई, जो एक साल पहले की समान अवधि में 11,590 करोड़ रुपये था। कंपनी ने कहा कि उसने समीक्षाधीन अवधि के दौरान 99,334 वाहन बेचे, जो पिछले वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में बेचे गए 91,536 वाहनों से 9 फीसदी अधिक है।

हालांकि, एमएंडएम ट्रैक्टर की बिक्री दूसरी तिमाही में 5 फीसदी घटकर 88,920 इकाई रह गई, जो एक साल पूर्व की समान अवधि में 93,246 इकाई थी। एकीकृत आधार पर महिंद्रा समूह ने चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में 1,929 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ दर्ज किया, जो वित्त वर्ष 2020-21 की दूसरी तिमाही में 615 करोड़ रुपये था। वहीं, दूसरी तिमाही में कंपनी की एकीकृत आय बढ़कर 21,470 करोड़ रुपये हो गई, जो एक साल पूर्व की इसी अवधि में 19,227 करोड़ रुपये थी।

महिंद्रा एंड महिंद्रा के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) और प्रबंध निदेशक अनीश शाह ने कहा कि हमने दूसरी तिमाही में अपने प्रदर्शन में महत्वपूर्ण समग्र सुधार देखा है। वाहन और कृषि क्षेत्रों में हमारे मजबूत प्रदर्शन के साथ ही समूह की कंपनियों का बेहतर प्रदर्शन रहा। उन्होंने बताया कि ‘डिजिटल प्लेटफॉर्म में हमारा निवेश अच्छा कर रहा है।’ कंपनी ने सेमीकंडक्टर की कमी से उत्पादन प्रभावित होने के बावजूद मजबूत बिक्री के दम पर यह वृद्धि हासिल की है।