Fri. Jul 30th, 2021

भारत ने दूसरे एकदिवसीय मुकाबले में श्रीलंका को तीन विकेट से हराया


तीन मैचों की श्रृंखला में बनाई 2-0 की अजेय बढ़त

 दीपक चाहर ने खेली नाबाद 69 रनों की ऐतिहासिक पारी



नई दिल्ली, 21 जुलाई (हि.स.)। भारत ने दीपक चाहर की 69 रनों की नाबाद ऐतिहासिक पारी की बदौलत दूसरे एकदिवसीय मैच में श्रीलंका को तीन विकेट से हराकर तीन मैचों की श्रृंखला में 2-0 की अजेय बढ़त बना ली है। कोलंबो में खेले गए इस मुकाबले में श्रीलंका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवरों में 9 विकेट पर 275 रन बनाए। जवाब में भारतीय टीम ने पांच गेंद शेष रहते 277 रन बनाकर मैच जीत लिया।

भारत की जीत में दीपक चाहर (नाबाद 69 रन) और भुवनेश्वर कुमार (नाबाद 19 रन) की अहम भूमिका रही। दोनों ने आठवें विकेट के लिए नाबाद 84 रनों की साझेदारी कर हारा हुआ मैच भारत की झोली में डाल दिया। इसके अलावा भारत की तरफ से सूर्यकुमार यादव ने 53, मनीष पांडे 37, क्रुणाल पांड्या 35 और शिखर धवन ने 29 रनों का योगदान दिया।

276 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ जल्द ही आउट हो गए। उन्हें हसरंगा ने क्लीन बोल्ड कर दिया। शॉ ने 13 रन बनाए। इसके बाद कसुन रजिथा ने विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन को आउट कर भारत को दूसरा झटका दिया। ईशान मात्र 01 रन ही बना पाए। भारत का तीसरा विकेट कप्तान शिखर धवन के रूप में गिरा। धवन 38 गेंदों पर छह चौकों की मदद से 29 रन बनाकर आउट हो गए। धवन को हसरंगा ने एलबीडब्ल्यू आउट किया। इसके बाद मनीष पांडे और सूर्यकुमार यादव ने पारी को संभाला। पांडे अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे लेकिन 18वें ओवर में पांडे रनआउट हो गए। पांडे ने 31 गेंदों में तीन चौके की मदद से 37 रन बनाए। इसी ओवर की आखिरी गेंद पर दासुन शनाका ने हार्दिक पांड्या को धनंजय डी सिल्वा के हाथों कैच आउट कराकर पवेलियन भेजा। हार्दिक खाता भी नहीं खोल सके।

यहां से सूर्यकुमार यादव और क्रुणाल पांड्या ने पारी को आगे बढ़ाया। इस बीच सूर्यकुमार यादव ने चौके के साथ अपने एकदिवसीय करियर का पहला अर्धशतक जड़ा। हालांकि सूर्यकुमार अपनी पारी को लंबा नहीं कर पाए। सूर्यकुमार यादव लक्षन संदाकान की गेंद पर एलबीडब्ल्यू हो गए। सूर्यकुमार ने 44 गेंदों में 6 चौके की मदद से 53 रन की पारी खेली।

इसके बाद 193 रनों के कुल स्कोर पर भारत को क्रुणाल पांड्या के रूप में सातवां झटका लगा। पांड्या 35 रन बनाकर पवेलियन लौटे। यहां भारत के हाथ से मैच जाता दिख रहा था, लेकिन इसके बाद दीपक चाहर और भुवनेश्वर कुमार की जोड़ी ने टीम को न सिर्फ संभाला बल्कि जीत भी दिलाई। इन दोनों बल्लेबाजों ने आठवें विकेट के लिए नाबाद 84 रनों की साझेदारी की और भारत को मैच जीता दिया। चाहर ने शानदार नाबाद 69 रन बनाए जबकि भुवनेश्वर ने नाबाद 19 रनों की पारी खेली। दीपक चाहर को उनके शानदार प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया।

श्रीलंका की तरफ से वनिन्दु हसरंगा ने सर्वाधिक तीन विकेट झटके। इसके अलावा दासुन शनाका, लक्षन संदाकान और कसुन रजिथा ने क्रमश: 1-1 विकेट हासिल किया।

इससे पहले टॉस जीतकर बल्लेबाजी करते हुए श्रीलंका ने नौ विकेट के नुकसान पर 275 रन बनाए। श्रीलंका की तरफ से सर्वाधिक 65 रन चरित असलंका ने बनाए। इसके अलावा सलामी बल्लेबाज अविष्का फर्नांडो ने 50 रन और चमिका करुणारत्ने ने नाबाद 44 रनों का योगदान दिया।

भारत की ओर से भुवनेश्वर कुमार और युजवेंद्र चहल ने तीन-तीन विकेट जबकि दीपक चाहर ने दो विकेट लिए।