Sat. Jul 31st, 2021

 प्रधानमंत्री मोदी ने गुजरात में 1200 करोड़ के विकास कार्य का किया लोकार्पण


 प्रधानमंत्री ने वर्चुअल से वडनगर से वाराणसी ट्रेन को दिखाई हरी झंडी



अहमदाबाद, 16 जुलाई (हि.स.)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्चुअल माध्यम से शुक्रवार को अहमदाबाद के साइंस सिटी में जलीय व रोबोटिक गैलरी के साथ-साथ गांधीनगर के पुनर्विकसित रेलवे स्टेशन और पांच सितारा होटल के साथ वडनगर के पुनर्विकसित रेलवे स्टेशन सहित 1,200 करोड़ रुपये के विकास कार्यों का उद्घाटन किया। प्रधानमंत्री मोदी ने दिल्ली से ही वडनगर से वाराणसी जाने वाली सुपरफास्ट ट्रेन को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया।

शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘पीएम मोदी ठीक हैं’ कहकर अपना भाषण शुरू किया। उन्होंने कहा कि नए भारत की नई पहचान के साथ आज एक और कड़ी जुड़ रही है। भविष्य में जब भी मौका मिलेगा, मैं गुजरात के इन प्रोजेक्ट्स को जनता के सामने रखूंगा। उन्होंने कहा कि साबरमती नदी एक समय में क्या स्थिति थी। लेकिन आज एक तरह से इसका पूरा इकोसिस्टम ही बदल गया है। अहमदाबाद में साइंस सिटी की परियोजना मनोरंजन और रचनात्मकता को जोड़ती है। यह बच्चों को कुछ नया सिखाएगी। एक्वाटिक गैलरी एशिया के शीर्ष एक्वैरियम में से एक है।

इस मौके पर वर्चुअल माध्यम से जुड़े केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि 35 साल बाद गांधीनगर स्टेशन का कायाकल्प हुआ है। आज से दो नई ट्रेनें शुरू होने जा रही हैं। गांधीनगर में आयोजित कार्यक्रम में गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि कोरोना के कारण विकास की गति धीमी हो गई थी। गुजरात के विकास को बेहतरीन से बेहतरीन बनाने के लिए प्रधानमंत्री की विकास यात्रा आगे बढ़ रही है। हमें खुशी है कि गांधीनगर अब विश्व प्रसिद्ध हो जाएगा। हम सबको मिलकर इस विकास की यात्रा को जारी रखना चाहिए।

इस मौके पर गांधीनगर में आयोजित कार्यक्रम में केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव, केंद्रीय राज्य रेल मंत्री दर्शना जरदोष और मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष और नवसारी से सांसद सीआर पाटिल समेत अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे। अहमदाबाद रेलवे स्टेशन से गृह राज्य मंत्री प्रदीप सिंह जडेजा भी कार्यक्रम में शामिल हुए।

दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र भाई मोदी का सपना गांधीनगर में महात्मा मंदिर से कनेक्टिविटी को और अधिक सुलभ बनाना था। गांधीनगर कैपिटल रेलवे स्टेशन के ऊपर एक 318 कमरों वाला पांच सितारा होटल का मोदी ने उदघाटन किया। साथ प्रधानमंत्री मोदी ने गांधीनगर और वाराणसी के बीच सप्ताह में एक बार चलने वाली सुपरफास्ट ट्रेन काे भी झंडी दिखाई। इसके अलावा गांधीनगर से वडनगर होते हुए तारंगा के पास वरेथा के लिए दिन में दो बार चलने वाली मेमू ट्रेन भी रवाना की।

एशिया के शीर्ष एक्वेरियम में से एक है एक्वाटिक गैलरी

प्रधानमंत्री मोदी ने अहमदाबाद स्थित साइंस सिटी में एक जलीय और एक रोबोटिक गैलरी का भी उद्घाटन किया। एशिया के शीर्ष एक्वेरियम में शामिल इस एक्वाटिक गैलरी में 68 अलग-अलग टैंकों में शार्क समेत कई प्रजातियों को देख सकेगा। इसमें 28 मीटर अंडरवाटर वॉकवे टनल बनाया गया है। इस जलीय गैलरी में एक छत के नीचे 188 प्रजातियों की 11,600 से अधिक मछलियां देखी जा सकती हैं। इस गैलरी में 10 अलग-अलग क्षेत्रों से लाए गए जलीय जीवन को देखा जा सकता है। है, जैसे कि भारतीय क्षेत्र, एशियाई क्षेत्र, अफ्रीकी क्षेत्र, अमेरिकी क्षेत्र, विश्व के महासागर और अन्य। समुद्री दुनिया के रोमांचकारी अनुभव के लिए यहां 5-डी थिएटर है।

रोबोकैफे में रोबो वेटर्स परोसेंगे पसंदीदा डिश

साइंस सिटी में 11,000 वर्ग मीटर के क्षेत्र में 79 प्रकार के 200 से अधिक रोबोटों के साथ एक अत्याधुनिक रोबोटिक गैलरी भी बनाई गई है। आश्चर्यजनक ट्रांसफॉर्मर रोबोट की प्रतिकृति भी प्रवेश द्वार पर प्रदर्शित है। इस गैलरी में विशेष रूप से तैयार किया गया ह्यूमनॉइड रोबोट खुशी, आश्चर्य और उत्साह जैसी कई भावनाओं को व्यक्त करता है और आगंतुकों के साथ बातचीत करता है। गैलरी के विभिन्न तलों पर, विभिन्न क्षेत्रों के रोबोट और उनकी उपयोगिताएं प्रदर्शित की जाती हैं, जैसे कि दवा, कृषि, अंतरिक्ष, रक्षा, आदि। रोबो शेफ द्वारा तैयार भोजन यहां रोबोकैफे में रोबो वेटर्स परोसेंगे। इसके अलावा 16 रोबोगाइड आगंतुकों का मार्गदर्शन करेंगे।

मनोरंजन के साथ बच्चों का ज्ञान बढ़ाएगा नेचर पार्क

प्रधानमंत्री ने आज 20 एकड़ में फैले नेचर पार्क का भी उद्घाटन किया। इस नेचर पार्क में 380 से अधिक प्रजातियां होंगी। पार्क में एक धुंध बांस सुरंग, ऑक्सीजन पार्क, शतरंज और योग स्थान, खुला जिम और बच्चों के लिए एक विशेष खेल क्षेत्र भी है। बच्चों के लिए जॉगिंग ट्रैक, वॉकिंग ट्रैक और एक दिलचस्प भूलभुलैया भी हैं। यहां वैज्ञानिक जानकारी के साथ-साथ मैमथ, टेरर बर्ड, सेबर टूथ लायन, ग्राउंडेड स्लॉथ बियर, वीड बेड़ा और हाइव फॉर्मेशन की वैज्ञानिक समझ जैसी विभिन्न मूर्तियां भी हैं।