Wed. Sep 22nd, 2021

भूल का पश्चाताप करने गुरुद्वारा नानकमत्ता साहिब पहुंचे हरीश रावत, लगाई झाड़ू और साफ किए जूते


 नवजोत सिंह सिद्धू और उनके चार उपाध्यक्षों को पंज प्यारे कहने का है मामला



उधम सिंह नगर, 4 सितंबर, (हि.स)। पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू और 4 कार्यवाहक अध्यक्षों की तुलना पंज प्यारों से करने पर गहराए विवाद पर माफी मांगने के बाद पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत भूल का पश्चाताप करने उत्तराखंड के उधम सिंह नगर जिले के नानकमत्ता गुरुद्वारा साहिब पहुंचे। यहां उन्होंने गुरुद्वार परिसर में झाड़ू लगाई और जूते साफ करके अपनी भूल का पश्चाताप किया। हरीश रावत ने सोशल मीडिया पर भी पोस्ट डालकर अपने बयान के लिए माफी मांगी है।

उधर, उनके इस बयान के खिलाफ नानकमत्ता, बाजपुर और किच्छा में भी विरोध प्रदर्शन किया गया। खटीमा में कांग्रेस परिवर्तन यात्रा का उद्घाटन करने के बाद रावत प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल, राज्यसभा प्रदीप टामटा और पूर्व सांसद महिंदरपाल के साथ गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष के कार्यालय पहुंचे। यहां उन्होंने गुरुद्वारा कमेटी के अध्यक्ष सेवा सिंह, प्रबंधक रंजीत सिंह, सुखवंत सिंह से मुलाकात की। इस बीच रावत ने अपने बयान के लिए माफी मांगी और गुरुद्वारे में सेवा की।