Wed. Sep 22nd, 2021

जनरल नरवणे ने किया परिचालन चुनौतियों के लिए तैयार रहने का आह्वान


पश्चिमी कमान मुख्यालय का दौरा करते समय सेना प्रमुख ने सैनिकों से की बातचीत

 भारतीय सेना की समृद्ध संस्कृति और सैन्य लोकाचार बनाए रखने को किया प्रोत्साहित



नई दिल्ली, 10 सितम्बर (हि.स.)। सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे ने शुक्रवार को चंडी मंदिर में पश्चिमी कमान के मुख्यालय का दौरा किया। कमान के अधिकारियों को संबोधित करते हुए उनसे गर्व और सम्मान के साथ सेवा करने और भारतीय सेना की समृद्ध संस्कृति और सैन्य लोकाचार को बनाए रखने के लिए प्रोत्साहित किया। सिख एलआई बटालियन के सैनिकों के साथ बातचीत करके व्यावसायिकता और निडर भावना के लिए उनकी सराहना की।

सेना प्रमुख ने आज चंडी मंदिर में मुख्यालय पश्चिमी कमान का दौरा किया। सेना प्रमुख को पश्चिमी कमान के सेना कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल आरपी सिंह ने विभिन्न परिचालन और प्रशिक्षण संबंधी मुद्दों पर जानकारी दी। सीओएएस ने पश्चिमी कमान के अधिकारियों को संबोधित किया, जिसके दौरान उन्होंने उन्हें गर्व के साथ सेवा करने और भारतीय सेना की समृद्ध संस्कृति को बनाए रखने के लिए प्रोत्साहित किया। भारतीय सेना का आधुनिकीकरण करने के लिए किये जा रहे उपायों पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि सैनिकों को सूचना प्रौद्योगिकी में नवीनतम रुझानों, उभरते साइबर खतरों और काउंटर उपायों के साथ खुद को अपडेट रखना चाहिए।

जनरल एमएम नरवणे ने सिख एलआई रेजिमेंट के कर्नल और बटालियन के सैनिकों के साथ बातचीत करके व्यावसायिकता और निडर भावना के लिए उनकी सराहना की। जनरल नरवणे ने कोरोना महामारी प्रतिबंधों के बावजूद युद्ध की तत्परता की उच्च स्थिति बनाए रखने में उनकी व्यावसायिकता और निडर भावना के लिए उनकी सराहना करते हुए सैनिकों के साथ बातचीत की। उन्होंने सभी रैंकों को उत्साह के साथ काम करना जारी रखने और भविष्य की किसी भी परिचालन चुनौतियों के लिए तैयार रहने का आह्वान किया।

चंडी मन्दिर हरियाणा राज्य के पंचकुला जिले में स्थित भारतीय सेना की एक सैन्य छावनी है। शिवालिक पहाड़ियों के तलहटी में घग्गर नदी के तट पर स्थित यह छावनी पंचकुला नगर से सटी हुई है। भारतीय सेना की पश्चिमी कमान का मुख्यालय चंडी मन्दिर में ही स्थित है।