Fri. Sep 17th, 2021

जकार्ता की जेल में आग लगने से 41 कैदियों की मौत , कई घायल


जाकार्ता, 08 सितम्बर (हि.स.)। इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता के पास बुधवार सुबह जेल में आग लगने से 41 कैदियों की मौत हो गई और कई कैदी घायल हो गए। यह आग तब लगी जब अधिकतर कैदी सो रहे थे। राहतकर्मी आग बुझाने के काम में लगे हुए हैं। टेलीविजन फुटेज में दिखाया गया है कि जेल से धुएं का गुबार निकल रहा है और राहत कर्मी आग को बुझाने के प्रयास में लगे हुए हैं।

जकार्ता के पुलिस प्रमुख फादिल इमरान ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि आग लगने के कारण 41 कैदियों की मौत हो गई है, जबकि आठ लोग गंभीर रूप से घायल हैं और 72 लोगों को छोटी चोटें आई हैं। उन्होंने बताया कि उन्होंने घटनास्थल पर जाकर जांच की है। बिजली के शॉर्ट सर्किट के कारण आग लगने की आशंका जतायी जा रही है।

अधिकारी तांगेरंग जेल में घटना के कारणों का पता लगा रहे हैं। ऐसी आशंका जताई जा रही है कि बिजली की खराबी के कारण आग लगी होगी।

जेल के डायरेक्टोरेट जनरल के प्रवक्ता रीका अप्रिआंती ने बताया कि तांगेरंग जेल के सी ब्लॉक से लगी आग के कारणों की अब भी जांच कर रहे हैं, इस जेल में मादक पदार्थों से जुड़े मामले के अपराधियों को रखा जाता है।

रीका ने बताया कि सैकड़ों पुलिस एवं सैनिकों को तांगेरंग कारागार पर नियंत्रण के लिए तैनात किया गया है, इसमें 1,225 कैदियों को रखने की जगह है लेकिन 2,000 से ज्यादा कैदी यहां बंद हैं। उन्होंने बताया कि सी ब्लॉक में जब आग लगी उस दौरान वहां 122 कैदी मौजूद थे। आग पर कुछ घंटों बाद काबू पा लिया गया और सभी हताहतों को अस्पताल पहुंचाया गया है।

उल्लेखनीय है कि इससे पहले साल 2019 में रियाउ प्रांत के एक जेल में दंगे होने और आग लगने के कारण 100 कैदी जेल से भाग गए थे।