Fri. Jul 30th, 2021

छत्तीसगढ़ में पूर्व एसीबी प्रमुख जीपी सिंह के विरुद्ध राजद्रोह का मामला दर्ज


रायपुर, 09 जुलाई (हि.स.)। छत्तीसगढ़ के सीनियर आईपीएस और पूर्व एसीबी प्रमुख जीपी सिंह के विरुद्ध राजद्रोह का मामला दर्ज किया गया है। किसी आईपीएस पर प्रदेश में पहली बार राजद्रोह का मामला दर्ज किया गया है। इस मामले में जल्द ही पूर्व आईपीएस जीपी सिंह की गिरफ्तारी हो सकती है।

एसीबी और ई ओ डब्लू की छापेमारी के दौरान जप्त की गई चिट्ठियों को आधार मानकर राजधानी रायपुर की कोतवाली में यह मामला दर्ज किया गया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार छापेमारी में जो चिट्टियां मिली हैं, उनके आधार पर सरकार के खिलाफ षड्यंत्र रचने की प्राथमिकी दर्ज की गई है। एसीबी की लिखित शिकायत पर एफआईआर दर्ज हुआ है।

एंटी करप्शन ब्यूरो के छापे के दौरान एडीजी के सरकारी बंगले से कुछ चिट्ठियां और पेन ड्राइव मिले थे। उनकी जांच के बाद अब कोतवाली पुलिस ने जीपी सिंह के खिलाफ राजद्रोह का केस दर्ज किया। उन पर सरकार के खिलाफ साजिश रचने का आरोप लगा है।

जीपी सिंह के सरकारी बंगले और सहयोगियों के ठिकानों पर छापेमारी के दौरान जो दस्तावेज मिले हैं, उनमें ऐसी बातें सामने आई हैं, जो सरकार के खिलाफ साजिश रचने की ओर इशारा कर रही हैं। फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच में जुटी है।छत्तीसगढ़ में भारतीय प्रशासनिक सेवा यानी आइएएस, आइपीएस और आइएफएस के किसी अधिकारी के खिलाफ राजद्रोह का यह पहला मामला है। इसके पहले भारतीय प्रशासनिक सेवा के किसी अधिकारी पर यह केस दर्ज नहीं किया गया।