Sun. Jan 23rd, 2022

कंगना रनौत ने सरकार के कृषि कानून के वापस लेने के फैसले को बताया शर्मनाक


इन दिनों विवादों में चल रही फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत ने कृषि कानून को वापस लेने के सरकार के फैसले को शर्मनाक बताया है कंगना ने अपनी इंस्टा स्टोरी पर पोस्ट साझा करते हुए लिखा-‘ ‘दुखद, शर्मनाक और सरासर गलत… अगर संसद में बैठी सरकार के बजाय गलियों में बैठे लोग कानून बनाना शुरू कर देंगे तो यह भी एक जिहादी देश बन जाएगा… उन सभी को बधाई जो ऐसा चाहते हैं।’

हालांकि कंगना ने इससे पहले सरकार के कृषि बिल का समर्थन करते हुए किसानों का आतंकवादी तक कह दिया था, जिसके बाद उन्हें आलोचनाओं का भी सामना करना पड़ा था। वहीं अब वह सरकार के कृषि क़ानून के वापस लेने के फैसले से नाखुश हैं।

गौरतलब है,प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा, “मैं देश वासियों के क्षमा मांगते हुए, सच्चे मन से कहना चाहता हूं कि हमारे प्रयास में कमी रही होगी कि हम उन्हें समझा नहीं पाए।इस दौरान प्रधानमंत्री ने तीनों कृषि कानून वापस लेने का ऐलान कर दिया। उनके इस ऐलान से हर कोई हैरान रह गया। सरकार ने 17 सितंबर 2020 को कृषि कानून लागू किए थे और इसके बाद से ही देश में सरकार के खिलाफ जोरदार विरोध प्रदर्शन हुए और कई किसान संगठनों के नेतृत्व में किसानों ने पूरे देश में चक्का जाम कर दिया था । वहीं, कृषि क़ानून को वापस लिए जाने के फैसले से देश के किसानों में भारी उत्साह है।