Mon. Aug 2nd, 2021

विदेशों से ठगी करने वाले नौ आरोपित गिरफ्तार


नई दिल्ली, 20 जुलाई (हि.स.)। फर्जी इंटरनेशनल कॉल सेंटर का पर्दाफाश करते हुए पश्चिमी जिले की साइबर सेल पुलिस टीम ने एक बड़े मामले का खुलासा किया है। उक्त मामले में टीम ने नौ आरोपितों को गिरफ्तार किया है। डीसीपी उर्विजा गोयल ने मंगलवार को जानकारी देते हुए बताया कि आरोपितों के पास से पुलिस टीम ने आधा दर्जन कंप्यूटर, लैपटॉप, इंटरनेट राउटर, नौ मोबाइल, टेलीकम्युनिकेशन सॉफ्टवेयर, इंटरनेट कॉलिंग के लिए ‘वीओआईपी’ और डाटा आदि बरामद किया है। इनके खिलाफ मोती नगर थाने में मामला दर्ज किया गया है।

गिरफ्तार आरोपितों की पहचान भानु, हरप्रीत, पुष्पेंद्र, सौरभ, उबेद, सुरेंद्र, योगेश, भव्या और गुरप्रीत सिंह के रूप में हुई है। इनमें टेलीकॉलर से लेकर कॉल सेंटर का ऑनर भी गिरफ्तार किया गया है। डीसीपी ने बताया कि एसीपी ऑपरेशन सुदेश रंगा की देखरेख में इंस्पेक्टर अरुण चौहान, सब इंस्पेक्टर अमित वर्मा, महेश कुमार आदि की टीम ने इस कॉल सेंटर का पता लगाकर पर्दाफाश किया, जो सुदर्शन पार्क इलाके में चोरी छिपे चलाया जा रहा था।

यह लोग इंटरनेट वीओआईपी कॉलिंग करके चीटिंग की वारदात को अंजाम देते थे। इनका निशाना यूएसए और कनाडा के लोग होते थे। जिनको टेक्निकल सपोर्ट का झांसा देकर ठगी की वारदात को अंजाम देते थे।

पूछताछ में पता चला कि ये लोग यूएस और कनाडा में रहने वाले लोगों को सिक्योरिटी वार्निंग, थ्रेट्स और टेक्निकल परेशानी जैसे पॉपअप मैसेजेस पीड़ितों के कंप्यूटर पर भेजते थे, जिसमें उसे ठीक करने के लिए एक नम्बर दिया होता था। जब इनके शिकार इनको फोन करते थे तो वो टेक्निकल सपोर्ट के नाम पर इनसे ई-चेक के द्वारा इनसे पैसे ऐंठते थे। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।