Mon. Aug 2nd, 2021

गाजियाबाद: फर्जी इनकम टैक्स अधिकारी और डेढ़ करोड़ ठगने वाला बिल्डर गिरफ्तार


गाजियाबाद, 20 जुलाई (हि.स.)। गाजियाबाद पुलिस ने पिछले 24 घंटों के दौरान दो ठगों को गिरफ्तार किया है। इनमें इनमें एक फर्जी इनकम टैक्स अधिकारी है तो दूसरा फर्जी कागजों के आधार पर फ्लैट बनाने बेचने के नाम पर एक करोड़ 40 लाख रुपए की ठगी करने वाला बिल्डर है। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया जहां से दोनों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।

सिहानी गेट पुलिस ने मंगलवार को पुराना बस अड्डा स्थित सिटी लॉज से रफीक नामक एक शख्स को गिरफ्तार किया है। वह मूल रूप से झारखंड का रहने वाला है जबकि काफी समय से गाजियाबाद में गोविंदपुरम में रह रहा था। सिहानी गेट थाना प्रभारी कृष्ण गोपाल शर्मा ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने होटल में छापा मारा और रफीक को हिरासत में लेकर पूछताछ की। पूछताछ में उसने बताया कि उसने इनकम टैक्स ऑफिसर के फर्जी कागजात तैयार कर रखें। जिनके आधार पर वह लोगों में रोब ग़ालिब कर ठगी करता है। उसने बताया कि वह बीटेक स्नातक है और उसे नौकरी नहीं मिली। इसके बाद उसने यह ठगी शुरू कर दी। उसके पास सेखुद के द्वारा तैयार किये गए इनकम टैक्स अफसर के फर्जी कागजात भी बरामद कर लिए है।

वही साहिबाबाद पुलिस ने शालीमार गार्डन एक्सटेंशन 2 से वहीं के रहने वाले प्रॉपर्टी डीलर सुधीर मलिक को गिरफ्तार किया है। साहिबाबाद थाना प्रभारी नागेंद्र चौबे ने बताया कि सुधीर मलिक पर आरोप है कि उसने सुनील नामक व्यक्ति से अपने प्लॉट पर 8 फ्लैट बनाकर देने के नाम पर एक करोड़ 40 लाख रुपए ले लिए थे। लेकिन उसने फिर वही फ्लैट फर्जी कागजात के आधार पर किसी दूसरे व्यक्ति को भेज दिए। जब अनिल ने अपने रुपये वापस मांगे तो उसने रुपये नही लौटाए। अनिल ने इस सम्बन्ध में पिछले दिनों पुलिस में एफ आई आर दर्ज कराई थी। जिसके बाद पुलिस ने सुधीर मलिक को गिरफ्तार कर लिया।