Sat. Jul 31st, 2021

मप्रः श्रद्धालुओं से भरी जीप 400 फीट गहरी खाई में गिरी, आठ की मौत


तोरणमाल दर्शन कर बड़वानी लौट रहे थे, चार अभी भी लापता



बड़वानी, 18 जुलाई (हि.स.)। मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र की सीमा पर नंदूरबार जिले में स्थित धार्मिक एवं पर्यटन स्थल तोरणमाल से दर्शन कर लौट रहे श्रद्धालुओं से भरी जीप रविवार देर शाम खड़की घाट पर 400 फीट गहरी खाई में जा गिरी। ऊंचाई से गिरने के कारण जीप के परखच्चे उड़ गए। इस हादस में आठ लोगों की मौत हो गई, जबकि पांच लोग घायल हुए हैं। वहीं, चार श्रद्धालु अब भी लापता बताए जा रहे हैं। मृतक और घायल बड़वानी जिले के पाटी ब्लॉक के ग्राम सेमलेट, खेरवानी, चैरवी क्षेत्र के रहने वाले हैं।

जानकारी के मुताबिक, महाराष्ट्र के नंदूरबार जिले और मध्यप्रदेश के बड़वानी जिले की सीमा पर रविवार शाम 5.00 बजे के करीब यह हादसा हुआ। जीप में सवार 15-20 श्रद्धालु तोरणताल से दर्शन कर वापस लौट रहे थे। तभी खेतिया थाना क्षेत्र में खड़की घाट पर जीप अनियंत्रित होकर 400 फीट गहरी खाई में जा गिरी। राहगीरों की सूचना पर देर रात पुलिस और प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे और राहत एवं बचाव कार्य शुरू किया। देर रात शुरू हुआ रेस्क्यू सोमवार सुबह तक चला, जिसमें आठ लोगों के शव बरामद हुए। हादसे में पांच घायल हुए हैं, जिन्हें नजदीकी अस्पताल में भर्ती किया गया है, जबकि जीप में सवार चार लोगों को पता नहीं चल पाया है।

खेतिया थाना प्रभारी संतोष सावले ने बताया कि जीप सवार लोग तोरणताल से दर्शन कर वापस लौट रहे थे। वाहन अनियंत्रित होकर खाई में गिर गया। घटना में 8 लोगों की मौत हुई है और पांच घायलों को तोरणमाल के अस्पताल पहुंचाया गया है।

उन्होंने बताया कि मृतकों की शिनाख्त गुमान सिंह पुत्र तुलसीराम निवासी सेमलेट, काशीराम पुत्र तुमला निवासी चैरवी, जुकसिंह पुत्र हरदास निवासी चैरवी, कमल पुत्र रेमसिंह ठाकुर निवासी खेरवानी, मुत्रा पुत्र सिलदार तड़वी निवासी चैरवी, भाकीराम पुत्र सेवा निवासी चैरवी, वेरांग्या पुत्र धनसिंह निवासी सेमलेट, आदंज्या पुत्र बुला निवासी चैरवी के रूप में हुई है। हादसे में जयसिंह पुत्र भीमसिंह निवासी सेमलेट, ईनेश पुत्र मर्दन तड़वी निवासी चैरवी, पठान पुत्र भीमसिंह निवासी सेमलेट, दिलीप पुत्र जेलसिंह निवासी तोरणमाल घायल हुए हैं। सभी को नंदूरबार रैफर किया है।