Sat. Jul 31st, 2021

उप्र में लोकतंत्र की धज्जियां उड़ाई जा रही और प्रधानमंत्री कर रहे प्रशंसा : प्रियंका वाड्रा


लखीमपुर खीरी, 17 जुलाई (हि.स.)। कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव तथा उप्र की प्रभारी प्रियंका वाड्रा ने शनिवार को यहां पहुंचकर पंचायत चुनाव में नामांकन के दौरान हिंसा की शिकार हुईं सपा महिला प्रत्याशी रीतू सिंह व उनकी प्रस्तावक अनीता यादव से मुलाकात की। इसके बाद उन्होंने कहा कि पूरे पंचायत चुनाव के दौरान प्रदेश भर में हिंसा हुई है, बम फूटे हैं, गोलियां चली हैं, महिलाओं पर अत्याचार हुआ है और इसके बाद भी प्रधानमंत्री चुनाव की प्रशंसा कर रहे हैं, यह लोकतंत्र की हत्या है।

प्रियंका वाड्रा अपने निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार शनिवार को पसगवां के ग्राम सेमरा जानीपुर पहुँचीं और पीड़ित महिलाओं से मिलने के बाद भाजपा और सपा दोनों पर निशाना साधते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में हुए पंचायत चुनाव में जिस तरह की गुंडागर्दी भाजपाइयों ने की है, वह लोकतंत्र की हत्या है। लोकतंत्र की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं और प्रधानमंत्री तारीफ कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि पंचायत चुनाव में सिर्फ लखीमपुर में ही नहीं, उप्र के हर जिले में कुछ न कुछ हुआ है। कहीं हिंसा तो कहीं गोली चली, कहीं बम फूटे हैं। जिस तरह से सपा की प्रत्याशी रीतू सिंह व उनकी प्रस्तावक अनीता यादव के साथ भाजपाइयों ने अभद्रता की है उसे पूरे देश ने देखा है। दोनों ही महिलाएं समाजवादी पार्टी की हैं परंतु वे महिलाएं हैं और इसीलिए उनका दर्द समझने में खुद आई हूं।

उन्होंने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पर भी तंज कसा और कहा कि उन्हें अपने कार्यकर्ताओं की फिक्र नहीं है।यह बताना चाहती हूं कि इस देश की और प्रदेश की एक-एक महिला इनके साथ खड़ी हैं। बताया कि मैंने कहा है कि आप घबराओ मत, हौसला रखो एक दिन वह नामांकन पत्र आप भरोगी और चुनाव भी जीतोगी। हम सब इसके लिए लड़ेंगे। यह लोकतंत्र की लड़ाई है।